features@inext.co.in  
KANPUR: 2015 में एक फिल्म के प्रमोशनल टूर के दौरान फिल्म के क्रू में शामिल एक महिला ने डायरेक्टर विकास बहल पर छेड़छाड़ करने का आरोप लगाया है। इस मामले के सामने आने के बाद अनुराग कश्यप ने विकास बहल को दोषी बताया था। अब तक इस मामले में चुप्पी साधे रहे विकास ने एक मीडिया इंट्रेक्शन के दौरान खुलकर अपनी बात रखी।
सोर्सेज के मुताबिक, उन्होंने अपने विकास वकील शमशेर के जरिए अलग-अलग ईमेल पर अनुराग और विक्रमादित्य को नोटिस भी भेजा है। नोटिस में विकास ने अनुराग कश्यप और विक्रमादित्य मोटवानी पर पूरे मामले में उनकी छवि खराब करने का आरोप लगाया है। 
आरोप लगाने के लिए घूस
नोटिस में यह भी कहा गया है कि अनुराग कश्यप ने कम्पनी की एक एम्पलाई को घूस दिया है, ताकि वह विकास पर सेक्सुअल हैरेसमेंट का आरोप लगाए विकास ने बताया कि वे चारों ही कुछ महीनों से इस बात को लेकर चर्चा कर रहे थे कि चारों अलग हो जाएंगे क्योंकि चारों के बीच काफी क्रिएटिव डिफरेंसेस आ चुके थे।
मामले को गलत तरीके से किया जा रहा है प्रेजेंट
विकास का कहना है कि इस पूरे मामले को मिला कर ऐसे प्रेजेंट किया जा रहा जैसे कम्पनी सिर्फ उनके कारण ही बन्द हुई है, जबकि कम्पनी का बन्द होना तय था। उन्होंने बताया गया कि 2017 में इसी मुद्दे पर अनुराग कश्यप के दिए गए स्टेटमेंट में और अब दिए गए स्टेटमेंट एक-दूसरे से बिल्कुल अलग हैं। पिछले ही महीने मोटवानी ने उनसे मुलाकात की थी और कथित पीड़िता से हुई बातचीत का एक स्क्रीनशॉट दिखाया था, जिसमें उसने सेक्शुअल असॉल्ट की किसी भी घटना से इनकार किया था। अब ऐसे में देखना है कि अनुराग और विक्रमादित्य क्या कहते हैं। 
अनुराग का ताजा स्टेटमेंट
इस मामले पर अनुराग ने एक बयान जारी किया था, जिसमें उन्होंने कहा, मैं मामी के बोर्ड ऑफ मेंबर की सभी ड्यूटी से अपना नाम वापस लेता हूं। दूसरी बात ये है कि मैं उन सभी आरोपों को खारिज करता हूं जिनके मुताबित 2015 में हुए मामले पर मैंने कभी कोई एक्शन नहीं लिया। खासतौर से मैं उन लोगों को सफाई नहीं देना चाहता हूं जो कानूनी नियमों को नहीं समझते हैं। मैं बहुत सारी महिलाओं के साथ काम करता हूं, मेरा उन सबके प्रति उत्तरदायित्व है। वो सब मेरे एक्शन की गवाह हैं। बता दें कि, 2011 में अनुराग, विक्रमादित्य, विकास और मधु ने फैंटम कंपनी बनाई थी। 

features@inext.co.in  

KANPUR: 2015 में एक फिल्म के प्रमोशनल टूर के दौरान फिल्म के क्रू में शामिल एक महिला ने डायरेक्टर विकास बहल पर छेड़छाड़ करने का आरोप लगाया है। इस मामले के सामने आने के बाद अनुराग कश्यप ने विकास बहल को दोषी बताया था। अब तक इस मामले में चुप्पी साधे रहे विकास ने एक मीडिया इंट्रेक्शन के दौरान खुलकर अपनी बात रखी।

सोर्सेज के मुताबिक, उन्होंने अपने विकास वकील शमशेर के जरिए अलग-अलग ईमेल पर अनुराग और विक्रमादित्य को नोटिस भी भेजा है। नोटिस में विकास ने अनुराग कश्यप और विक्रमादित्य मोटवानी पर पूरे मामले में उनकी छवि खराब करने का आरोप लगाया है। 

आरोप लगाने के लिए घूस

नोटिस में यह भी कहा गया है कि अनुराग कश्यप ने कम्पनी की एक एम्पलाई को घूस दिया है, ताकि वह विकास पर सेक्सुअल हैरेसमेंट का आरोप लगाए विकास ने बताया कि वे चारों ही कुछ महीनों से इस बात को लेकर चर्चा कर रहे थे कि चारों अलग हो जाएंगे क्योंकि चारों के बीच काफी क्रिएटिव डिफरेंसेस आ चुके थे।

मामले को गलत तरीके से किया जा रहा है प्रेजेंट

विकास का कहना है कि इस पूरे मामले को मिला कर ऐसे प्रेजेंट किया जा रहा जैसे कम्पनी सिर्फ उनके कारण ही बन्द हुई है, जबकि कम्पनी का बन्द होना तय था। उन्होंने बताया गया कि 2017 में इसी मुद्दे पर अनुराग कश्यप के दिए गए स्टेटमेंट में और अब दिए गए स्टेटमेंट एक-दूसरे से बिल्कुल अलग हैं। पिछले ही महीने मोटवानी ने उनसे मुलाकात की थी और कथित पीड़िता से हुई बातचीत का एक स्क्रीनशॉट दिखाया था, जिसमें उसने सेक्शुअल असॉल्ट की किसी भी घटना से इनकार किया था। अब ऐसे में देखना है कि अनुराग और विक्रमादित्य क्या कहते हैं। 

अनुराग का ताजा स्टेटमेंट

इस मामले पर अनुराग ने एक बयान जारी किया था, जिसमें उन्होंने कहा, मैं मामी के बोर्ड ऑफ मेंबर की सभी ड्यूटी से अपना नाम वापस लेता हूं। दूसरी बात ये है कि मैं उन सभी आरोपों को खारिज करता हूं जिनके मुताबित 2015 में हुए मामले पर मैंने कभी कोई एक्शन नहीं लिया। खासतौर से मैं उन लोगों को सफाई नहीं देना चाहता हूं जो कानूनी नियमों को नहीं समझते हैं। मैं बहुत सारी महिलाओं के साथ काम करता हूं, मेरा उन सबके प्रति उत्तरदायित्व है। वो सब मेरे एक्शन की गवाह हैं। बता दें कि, 2011 में अनुराग, विक्रमादित्य, विकास और मधु ने फैंटम कंपनी बनाई थी।  

ये भी पढ़ें: उत्पीड़न के आरोपों के बाद आलोक नाथ की बिगड़ी तबियत

Bollywood News inextlive from Bollywood News Desk