-दुकानों के ऊपर और दुकान के आगे रोड तक कर रहे शराब का विज्ञापन

-अफसर बोले मामला संज्ञान में नहीं, लेकिन शराब बेचने के लिए विज्ञापन करने पर है पाबंदी

>

BAREILLY :

शराब देशी हो या अंग्रेजी, आबकारी नीतियों में स्पष्ट है कि कोई भी ठेकेदार शराब की बिक्री को बढ़ावा देने के लिए प्रचार प्रसार नहीं कर सकता, लेकिन शहर में शराब के विक्रेता नियमों की खुलेआम धज्जियां उड़ा रहे हैं. शराब की दुकानों के ऊपर बड़े-बड़े होर्डिंग्स और बैनर लगा रखे हैं. दुकान के आगे सड़क किनारे भी शराब का बैनर लगाकर शराब खरीदने के लिए दुष्प्रेरित किया जा रहा है. प्रचार भी ऐसा जैसे आमजन की सेहत के फायदे की सामग्री बेची जा रही है. इसके बाद भी आबकारी डिपार्टमेंट इस बात से अनजान है कि शराब दुकानदार शराब बेचने के लिए विज्ञापन भी कर रहे हैं. आइए दिखाते हैं शहर की सरकारी दुकानों पर प्रचार के हालात..

लाइसेंस नम्बर और ब्रांड होगा अंकित

एक्साइज पॉलिसी के तहत शराब की दुकानों पर शराब के विज्ञापन लगाने की मनाही है. बावजूद इसके विज्ञापन लगे हैं. अब दुकान पर उपलब्ध शराब की किस्म और लाइसेंस नम्बर ही लिखा जाएगा. आमजन की सेहत व अन्य फायदा की सामग्री के लिए प्रचार प्रसार किया जा सकता है, लेकिन आमजन की सेहत से खिलवाड़ या हानिकारक किसी भी सामग्री का प्रचार प्रसार ही नहीं किया जा सकता है.

----

डाेहरा रोड

शहर के डोहरा रोड पर बियर और अंग्रेजी शराब की दुकानें आसपास हैं. दोनों दुकानों के ऊपर बड़े-बडे़ होर्डिंग और बोर्ड लगे हुए हैं. बियर की दुकान के ऊपर तो फ्लेवर तक का विज्ञापन बाकायदा किया गया है. जिसमें लिखा है फ्लेवर अप लाइफ. इसके बाद भी आबकारी अफसरों की नॉलेज में नहीं है.

सेटेलाइट

रोडवेज बस स्टैंड सैटेलाइट के पास पीलीभीत बाइपास रोड पर अंग्रेजी शराब, बियर और देशी शराब की तीन दुकानें अगल-बगल खुली हैं. तीनों दुकानों के ऊपर दुकानदार ने बड़े होर्डिंग और बैनर लगा रखे हैं. बैनर ही नहीं रोड तक लाकर होर्डिग और स्टैंडी लगा दी जाती हैं. ताकि राहगीर भी आसानी से देख सके.

सिविल लाइंस

शहर के सिविल लाइंस आईसीआईसीआई बैंक के सामने अंग्रेजी शराब, बियर और देशी शराब दुकानें हैं वहां पर भी दुकान के ऊपर और आगे तक होर्डिग बोर्ड लगा रखे हैं. जहां से अफसर भी गुजरते हैं, लेकिन किसी की नजर इस अनधिकृत विज्ञापन पर नहीं पड़ी.

पीलीभीत रोड

पीलीभीत रोड आरयू यूनिवर्सिटी के सामने ही मॉडल शॉप है. वहां आरयू के पांच ब्वॉयज हॉस्टल भी हैं. इसके बाद भी मॉडल शॉप के ऊपर जबरदस्त विज्ञापन किया गया है. इसके बाद भी जिम्मेदार इन दुकानदारों पर कोई कार्रवाई नहीं कर रहे हैं.

फैक्ट फिगर डिस्ट्रिक्ट

89-अंग्रेजी शराब की दुकान

351- देशी शराब की दुकान

72-बियर की दुकान

--------

दुकानदार दुकान के ऊपर या फिर रोड तक शराब के विज्ञापन के बोर्ड लगाए हैं तो यह नियमत: गलत है. शराब बेचने का विज्ञापन तो कोई शराब का दुकानदार नहीं कर सकता है. अब जानकारी मिली है, विज्ञापन करने वाले दुकानदारों पर एक्शन लिया जाएगा.

डीएन दुबे, जिला आबकारी अधिकारी