-पोस्टमार्टम रिपोर्ट में एसएचओ सुबोध कुमार सिंह को गोली लगने की पुष्टि

- 7 उपद्रवियों को नामजद करते हुए एफआईआर, वायरल वीडियो से अन्य की पहचान की कोशिश जारी

lucknow@inext.co.in
LUCKNOW :
बुलंदशहर के स्याना इलाके में गोकशी को लेकर हुए उपद्रव में एसएचओ स्याना सुबोध कुमार सिंह व एक ग्रामीण की मौत के मामले में यूपी पुलिस में हड़कंप मच गया है. सोमवार शाम बुलाई गई प्रेस कॉन्फ्रेंस में एडीजी लॉ एंड ऑर्डर ने बताया कि सीएम योगी आदित्यनाथ के आदेश पर मामले की जांच के लिये आईजी रेंज के नेतृत्व में एसआईटी का गठन किया गया है. वहीं, घटनास्थल के हालात का जायजा लेने के लिये एडीजी इंटेलिजेंस को रवाना किया गया है. उधर, देररात आई एसएचओ सुबोध कुमार सिंह की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में उनके सिर पर गोली लगने की पुष्टि हुई है.

48 घंटे में रिपोर्ट तलब
एडीजी लॉ एंड ऑर्डर आनंद कुमार ने बताया कि एडीजी कुमार ने बताया कि मामले की जांच के लिये आईजी रेंज के नेतृत्व में एसआईटी का गठन किया है. यह एसआईटी गोकशी व उसके बाद हुए उपद्रव की जांच करेगी. जांच में वह यह भी देखेगी कि इस पूरे घटनाक्रम के पीछे कोई साजिश तो नहीं है. उन्होंने बताया कि फिलवक्त पांच कंपनी रैपिड एक्शन फोर्स व छह कंपनी पीएसी मौके पर तैनात किया गया है, जो लगातार पूरे इलाके में गश्त कर रही हैं. वहीं, 7 उपद्रवियों को नामजद करते हुए एफआईआर दर्ज कराई गई है. घटना के सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो से अन्य उपद्रवियों की पहचान की कोशिश की जा रही है.

गोली लगने से हुई मौत
एडीजी आनंद कुमार ने बताया कि गोकशी की सूचना पुलिस को मिली थी. तीन गांवों के लोग उत्तेजित थे. जिसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने ग्रामीणों को समझाया था. वार्ता के बाद ग्रामीण शांत भी हो गए थे और हाइवे पर लगाया जाम भी हटा दिया था. पर, इसके बाद अचानक एक बार फिर ग्रामीण भड़क उठे और उन्होंने पुलिस पर पथराव कर दिया. इस दौरान वहां पर जो भी पुलिस के वाहन मौजूद थे, उनमें तोड़फोड़ की गई. इसी पथराव के बीच हुई फायरिंग में एसएचओ स्याना सुबोध कुमार सिंह भी घायल हो गए. उनके सिर पर गंभीर चोट आई. उन्हें हॉस्पिटल ले जाया गया जहां डॉक्टर्स ने उन्हें मृत घोषित कर दिया. देररात एडीजी आनंद कुमार ने बताया कि एसएचओ सुबोध कुमार सिंह की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में उनके सिर में .32 बोर की गोली लगने की पुष्टि हुई है. उल्लेखनीय है, इससे पूर्व प्रेस कॉन्फ्रेंस में एडीजी कुमार ने इंस्पेक्टर सुबोध की मौत की वजह सिर पर किसी ब्लंट ऑब्जेक्ट से चोट लगना बताया था.