-परीक्षा नियंत्रक की टीम ने कॉलेज पहुंचकर की जांच

-शुरुआती पड़ताल में वायरल ऑडियो सही साबित

<-परीक्षा नियंत्रक की टीम ने कॉलेज पहुंचकर की जांच

-शुरुआती पड़ताल में वायरल ऑडियो सही साबित

BAREILLYBAREILLY :

आरयू की मुख्य परीक्षा में रुपए लेकर कॉपी बाहर से लिखवाने के मामले में नवाबगंज का लाल बहादुर स्मारक महाविद्यालय घिरता नजर आ रहा है. मामले की जांच के लिए आरयू के वीसी द्वारा परीक्षा नियंत्रक महेश कुमार के नेतृत्व में बनाई गई तीन सदस्यीय कमेटी ने मंडे और ट्यूजडे को लाल बहादुर स्मारक महाविद्यालय पहुंचकर जांच की. जांच कमेटी का कहना है कि प्रथम दृष्टया जांच में कॉलेज दोषी पाया गया. फिलहाल अफसरों का कहना है, जब तक मामले की पूरी जांच नहीं हो जाती है और रिपोर्ट नहीं आ जाती है तब तक कुछ नहंीं कहा जा सकता. जांच रिपोर्ट आने के बाद ही महाविद्यालय के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.

कर्मचारियों के भ्ाी लिए बयान

नवाबगंज के लाल बहादुर स्मारक महाविद्यालय पहुंची टीम ने मंडे को कॉलेज के रिकॉर्ड आदि की जांच की जबकि ट्यूजडे को टीम ने कॉलेज के प्रबंधन और स्टाफ से भी बातचीत कर उनके बयान दर्ज किए. जांच कमेटी ने इस दौरान वायरल ऑडियो भी सुनवाया, जिसमें परीक्षा केन्द्र से लेकर बाहर तक उत्तर पुस्तिका लिखवाने का कैसे खेल चल रहा है. तीन प्रोफेसर ने जांच में दूसरे दिन भी अहम सुराग बातचीत और रिकॉर्ड से जुटाए. टीम का कहना है कि वेडनसडे को जांच पूरी होने के बाद रिपोर्ट वीसी को सौंप दी जाएगी. उसके बाद कार्रवाई का निर्णय वीसी लेंगे.

वायरल ऑडियो 8 कॉपी लिखवाने के ख्0 हजार

आरयू प्रशासन ने नकल विहीन परीक्षा कराने के लिए जितने भी दावे किए थे वायरल ऑडियो ने उन दावों पर सवाल खड़े कर दिए हैं. वायरल ऑडियो की बातचीत में उत्तर पुस्तिका बाहर से लिखवाने वाला ख्0 हजार रुपए लेकर आठ कॉपी बाहर से लिखवाने की डीलिंग कर रहा है. वह खुद को कॉलेज प्रबंधक का रिश्तेदार भी बता रहा है.

-----------

वायरल ऑडियो की जांच कर रही प्रोफेसर की तीन सदस्यीय टीम की जांच में प्रथम दृष्टया तो महाविद्यालय दोषी पाया गया है. फिलहाल अभी रिपोर्ट मिलनी बाकी है. जांच टीम की रिपोर्ट के बाद ही कार्रवाई का निर्णय लिया जाएगा.

महेश कुमार, परीक्षा नियंत्रक