कानपुर। भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेलते 10 साल हो गए। साल 2008 में श्रीलंका के खिलाफ दांबुला में उन्हें डेब्यू का मौका मिला था। तब वह सिर्फ 19 साल के थे। नई उम्र में जोश के साथ-साथ विराट कई बार होश खो बैठे। ऐसा ही एक किस्सा है साल 2012 का जब टीम इंडिया ऑस्ट्रेलिया दौरे पर गई थी और वहां विराट ने मैदान में आपत्तिजनक हरकत करके खूब सुर्खियां बटोरी थीं। 29 के हो चुके विराट ने छह साल पुराने उस वाक्ये को याद किया। कोहली ने विस्डन मैग्जीन को दिए एक इंटरव्यू में खुलासा किया कि उनकी इस हरकत ने उन्हें किस मुश्किल में डाल दिया था।
जानिए 6 साल पहले किस हरकत पर गिड़गिड़ाए थे कोहली,कहा था - प्लीज,मुझे बैन मत करो
प्लीज मुझे बैन मत करिएगा

विराट बताते हैं, 'यह बात मैं आज तक नहीं भूला। 2012 में सिडनी टेस्ट में ऑस्ट्रेलियाई दर्शकों ने हद कर दी थी। फिर मैंने उन्हें मिडिल फिंगर दिखाई, यह मुझे काफी कूल लगा। अगले दिन मैच रेफरी रंजन मुदगुले ने मुझे अपने कमरे में बुलाया। वहां जाते ही मैंने कहा कि, 'क्या गड़बड़ हुई?, तब रंजन ने पूछा, 'कल बाउंड्री पर क्या हुआ था?' मैंने कहा, कुछ नहीं। तब उन्होंने मेरी तरफ न्यूजपेपर फेंका जिसमें उंगली दिखाते हुए मेरी एक बड़ी सी फोटो छपी थी। यह देखते ही मैंने तुरंत उन्हें सॉरी बोला और कहा प्लीज मुझे बैन मत करिएगा। खैर रंजन समझ सकते थे कि मैं युवा हूं और ऐसी चीजें होती रहती हैं।'
जानिए 6 साल पहले किस हरकत पर गिड़गिड़ाए थे कोहली,कहा था - प्लीज,मुझे बैन मत करो
मैं जैसा हूं, वैसा ही रहा
10 साल के करियर में यह इकलौता किस्सा नहीं है जो विराट की आक्रामकता को दिखाए उन्होंने इसके अलावा और भी कई कारनामे किए हैं। विराट कहते हैं, 'मैं आज जब उन सारी बातों को सोचता हूं तो काफी हंसी आती है। खैर मुझे इस बात पर गर्व होता है कि मैं जैसा हूं, वैसा ही रहा। मैंने अपने अंदर कभी कोई बदलाव नहीं किया न किसी इंसान के लिए न दुनिया के लिए। मैं जो हूं उससे खुश हूं।' हालांकि कोहली मानते हैं कि उनके परिवार और कोच ने उन्हें हद में रखने की काफी कोशिश की। 'मेरे कोच राजकुमार शर्मा मुझे अच्छी तरह समझते हैं। मैं जब उनके पास क्रिकेट सीखने गया था तब 9 साल का था। पूरे करियर में उन्होंने काफी अच्छी बातें समझाईं। मेरी जहां भी गलती होती वे मुझे तुंरत समझाते।'
जानिए 6 साल पहले किस हरकत पर गिड़गिड़ाए थे कोहली,कहा था - प्लीज,मुझे बैन मत करो
नई जनरेशन न करे ऐसा

कोहली का यह भी कहना है उन्होंने जो गलती की वह नहीं चाहते कि आने वाली जनरेशन भी करे। 'अगर मैं किसी युवा क्रिकेटर को वही गलती दोहराते देखता हूं जो मैंने की थी तो मुझे उसे सुधारना होगा। अगर मैं ऐसा नहीं करता तो यह मेरी असफलता होगी। उस वक्त मैं चुप रहा तो मैं अपने काम के साथ न्याय नहीं कर पाउंगा।' यही नहीं कोहली मानते हैं कि, आप किसी की पर्सनल और प्रोफेशनल जिंदगी में ज्यादा दखल तो नहीं दे सकते, लेकिन मैंने शुरुआती करियर में जो गलतियां कि वही आज के युवा खिलाड़ी करेंगे तो यह उनकी ग्रोथ में रुकावट डालेगा और कुछ नहीं।

कोहली से पहले जिस खिलाड़ी को धोनी टीम में चाहते थे लाना, उसने अब लिया संन्यास


जानिए कैसे खेला जाएगा 100 गेंदों का मैच, जिसकी आलोचना कर रहे विराट कोहली

Cricket News inextlive from Cricket News Desk