साउथैम्पटन (पीटीआई)। भारत और इंग्लैंड के बीच पांच मैचों की टेस्ट सीरीज का चौथा टेस्ट भारत 60 रन से हार गया। इसी के साथ इस सीरीज में मेजबान टीम ने 3-1 की अजेय बढ़त ले ली। हार के बाद भारतीय कप्तान विराट कोहली ने माना कि दोनों टीमों के बीच जीत-हार का अंतर कैसे आया। कोहली को लगता है विपरीत स्थिति में इंग्लैंड के खिलाड़ियों ने हमसे ज्यादा बहादुरी दिखाई। इंग्लैंड के निचले क्रम के बल्लेबाजों ने जिस तरह धीरे-धीरे स्कोर आगे बढ़ाया वह वाकई काबिलेतारीफ था। खासतौर से सैम करन ने पहले बल्लेबाजी और फिर गेंदबाजी में शानदार प्रदर्शन किया। वहीं इंग्लिश कप्तान जो रूट का कहना है वह इस विजयरथ को आगे भी जारी रखेंगे। हम सीरीज भले ही जीत गए हों मगर ओवल में होने वाले आखिरी मैच में मेहमान को कड़ी टक्कर देंगे।

इंग्लैंड ने की अच्छी बल्लेबाजी
भारतीय कप्तान विराट कोहली ने माना कि जीत-हार का फैसला तब ही हो गया था जब इतनी टफ सिचुएशन के बावजूद इंग्लैंड ने 245 रन का टारगेट दे दिया था। वह कहते हैं, 'मुझे लगता है इंग्लैंड ने तीसरी पारी में अच्छी बल्लेबाजी की। मेहमान बल्लेबाजों ने गेंद के टर्न के हिसाब से खुद को ढाला और उसी हिसाब से शॉट लगाए। उस वक्त हमने काफी गलतियां की मगर आखिर में क्रेडिट उन्हें ही मिलना चाहिए।' विराट कोहली ने अपनी और रहाणे की शतकीय साझेदारी के वक्त दबाव में रहने की बात पर कप्तान कहते हैं, 'अगर आपको एक बड़ा लक्ष्य हासिल करना है तो पार्टनरशिप काफी अहम होती है। उस वक्त दबाव नॉन-स्टॉप था।'
जानिए किसने तय की भारत बनाम इंग्लैंड के बीच जीत और हार
अगले मैच पर है नजर
मौजूदा टेस्ट सीरीज में भारत की तरफ से सिर्फ विराट कोहली ही रन बना पाए हैं बाकी सभी बल्लेबाज फ्लॉप रहे। इस बात को कप्तान भी मानते हैं। वह कहते हैं, 'मुझे लगता है पहली पारी में मेरे जल्द आउट होने से काफी फर्क पड़ा। मैं क्रीज पर ज्यादा देर खड़ रहता तो शायद हम मेहमान को बड़ी लीड दे पाते।' खैर विराट चार टेस्ट खत्म होने के बाद अब फाइनल मैच की तैयारी पर ध्यान दे रहे। उनका कहना है वह नकारात्मक बातों को दरकिनार करते हुए सिर्फ सकारात्मक सोच के साथ मैदान में उतरेंगे।

विराट तो नहीं, इंग्लैंड में इन 3 भारतीय कप्तानों ने जरूर जीती है टेस्ट सीरीज

विराट के अलावा इंग्लैंड में टेस्ट सीरीज हारने वाले ये हैं 11 भारतीय कप्तान

Cricket News inextlive from Cricket News Desk