कानपुर। टीम इंडिया चार साल पहले जब इंग्लैंड दौरे पर आई थी तब भारतीय कप्तान विराट कोहली का प्रदर्शन बहुत खराब था। विराट पांच टेस्ट मैचों में कुल 134 रन ही बना पाए थे। मगर इस बार वह अलग फॉर्म में है, मौजूदा सीरीज में अभी तीन मैच हुए हैं और कोहली के बल्ले से 440 रन निकल चुके हैं। इसमें दो शतक और दो अर्धशतक शामिल हैं। 2018 दौरे में विराट इंग्लैंड में रन बनाएंगे या नहीं, इसके बारे में और किसी को यकीन भले न था मगर एक इंग्लिश गेंदबाज को इसका अंदाजा पहले लग गया था। जी हां टेस्ट सीरीज शुरु होने से पहले इंग्लैंड के तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन ने भविष्वाणी की थी कि पहले से काफी बदल गए हैं, इस बार उन्हें रोक पाना मुश्किल होगा।

एंडरसन को था पहले से अंदाजा
जेम्स एंडरसन ने तब प्रेस कांफ्रेंस में कहा था, ''आज क्रिकेटर्स अपनी पुरानी गलतियों को बहुत जल्दी सुधार लेते हैं। मुझे उम्मीद है कि चार साल पहले विराट ने यहां जो गलतियां की इस बार उसे नहीं दोहराएंगे। मैं ये सुनिश्चित करता हूं कि कोहली ने इसके लिए काफी प्रैक्टिस की होगी। वह न सिर्फ मेरे खिलाफ बल्कि बाकी गेंदबाजों के विरुद्ध भी अच्छी तैयारी के साथ मैदान में उतरेंगे। खैर यह मुकाबला काफी रोचक होने वाला है। विराट अपनी टीम के लिए रन बनाने को हमेशा आतुर रहते हैं। आप अपने कप्तान और दुनिया के महान बल्लेबाज से ऐसी ही उम्मीद करते हैं।'
इस इंग्लिश गेंदबाज को पहले से पता था कि अबकी बार जमकर पीटेंगे विराट
पसंदीदा शिकार कोहली को नहीं आउट कर पाए एंडरसन
35 साल के तेज गेंदबाज एंडरसन का विराट के खिलाफ रिकॉर्ड काफी शानदार रहा है। साल 2014 टूर में उन्होंने 6 पारियों में 4 बार कोहली को आउट किया था। ओवरऑल देखें तो एंडरसन टेस्ट में विराट का पांच बार शिकार कर चुके हैं। बताते चलें कि साल 2014 में टीम इंडिया जब इंग्लैंड दौरे पर गई थी तब पांच टेस्ट मैचों में विराट के बल्ले से सिर्फ 134 रन निकले थे। यह उनके टेस्ट करियर की सबसे खराब परफॉर्मेंस थी। हालांकि 2016-17 में जब इंग्लिश टीम भारत खेलने आई तब विराट ने पांच टेस्ट में 655 रन बना डाले और टीम को 4-0 से जीत भी दिलाई। मगर इस बार फिर विराट ने इंग्लैंड में अपना दम-खम दिखाया और एंडरसन उन्हें 6 पारियों में एक भी बार आउट नहीं कर पाए।

विराट की रणनीति काम आई
टीम इंडिया ने इंग्लैंड में 3 टी-20 और 3 वनडे मैच खेले हैं जिसमें विराट के बल्ले से कुल 301 रन निकले हैं। हालांकि इसमें जहां टी-20 सीरीज भारत के नाम रही वहीं वनडे में मेजबान हावी रहे। वनडे में दो हॉफसेंचुरी जड़ने के बाद विराट ने टेस्ट में 440 रन बना लिए हैं। इसे देखकर लगता है विराट इस समय शानदार फॉर्म में हैं।

टेस्ट क्रिकेट में कोहली ने पाया वो मुकाम, 24 साल के करियर में सचिन भी नहीं कर सके थे अपने नाम

इंग्लैंड में सात टेस्ट जीतने में भारत के 33 कप्तान बदल गए

Cricket News inextlive from Cricket News Desk