कानपुर। कालाष्टमी-24 जून
कुछ लोग इसे काला अष्टमी के नाम से जानते हैं। इसे हर महीने कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि के दौरान मनाया जाता है। साल भर की सभी कालाष्टमी के दिन कालभैरव के भक्त उनकी पूजा करते हैं और व्रत रहते हैं। सबसे मुख्य कालाष्टमी को कालभैरव जयन्ती के नाम से जाता है। इसे उत्तर भारतीय पूर्णीमांत पंचांग के अनुसार मार्गशीर्ष माह में मनाया जाता है।

योगिनी एकादशी-29 जून
इस महीने योगिनी एकादशी 29 जून को है। यह एकादशी निर्जला एकादशी के बाद और देवशयानी एकादशी से पहले आती है। उत्तर भारतीय पंचांग के अनुसार ये आषाढ़ के महीे में कृष्ण पक्ष के दौरान मनाई जाती है। वहीं दक्षिण भारतीय पंचांग के मुताबिक ये ज्येष्ठ माह में कृष्ण पक्ष के दौरान पड़ती है।

मासिक कार्तिगाई- 29 जून
कार्तिगाई मुख्य रूप से तमिलनाडु के हिंदू मनाते हैं। ये उनका बहुत पुराना त्योहार है। इस त्योहार पर वे लोग तेल के दिप जला कर अपने घरों और मुहल्लों को सजाते हैं। ये उत्तर भारत में मनाए जाने वाले मुख्य त्योहार दीपावली से मिलता-जुलता है।

प्रदोष व्रत- 30 जून
ये व्रत हर महीने पड़ता है। ये व्रत शंकर भगवान के लिए रखा जाता है। हालांकि अगर ये व्रत शनिवार या सोमवार को पड़ता है तो इसका महत्व और भी बढ़ जाता है।

Spiritual News inextlive from Spiritual News Desk