-एसडीएम और सीओ जसराना मौके पर पहुंचे

फीरोजाबाद. मंगलवार को आए भूकंप का जिले में भी प्रभाव रहा. कई घरों में दरारें पड़ गईं. वहीं जसराना ब्लाक के नगला जिला के प्राथमिक विद्यालय की दीवाल भी भूकंप से चटक गई थी लेकिन स्कूल के अध्यापकों ने इस तरफ ध्यान नहीं दिया. बुधवार को स्कूल में तो छुट्टी थी. गांव के बच्चे परिसर में खेल रहे थे. इसी दौरान अचानक चटकी दीवाल भरभरा कर गिर पड़ी. दीवाल गिरने की आवाज होते ही वहां खेल रहे बच्चे भाग कर दूर खड़े हो गए, लेकिन तीन वर्ष की जानू पुत्री सुनील चपेट में आ गई. मासूम को मलवे में दबा देख बच्चों ने शोर मचाया तो ग्रामीण दौड़ कर मौके पर पहुंचे और मलवा हटाकर बच्ची को निकाला, लेकिन तब तक उसकी मौत हो चुकी थी. जानकारी होते ही जानू के परिवार में कोहराम मच गया. परिजन स्कूल में पहुंच गए. ग्राम प्रधान ने घटना से एसडीएम जसराना अमित कुमार को अवगत कराया. वह गांव पहुंचे और मासूम के परिजनों को आर्थिक सहायता का आश्वासन दिया. इसके बाद ग्रामीणों ने मासूम की अंत्येष्टि कर दी.