patna@inext.co.in

PATNA/BUXAR : गंगा का जलस्तर बढ़ने से बाढ़ के हालात बन गए हैं. गंगा का पानी एक सेंटीमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से बढ़ रहा है. प्रशासन को अलर्ट रहने का निर्देश दिया गया है. जलस्तर में वृद्धि होने से दियारा इलाके के लोगों में अभी से ही बाढ़ का दहशत हो गया है. तटवर्ती सभी अंचलों को हर वक्त सतर्क रहने के आदेश दिए गए हैं. किसी भी विकट परिस्थिति का सामना करने के लिए प्रशासन कमर कसकर पूरी तरह तैयार है.

तेजी से बढ़ रहा पानी

पिछले कई दिनों से गंगा के जलस्तर में एक बार फिर से वृद्धि जारी है. विगत तीन दिनों से जलस्तर में लगातार एक सेमी की रफ्तार से वृद्धि जारी है. इसके पूर्व शुक्रवार तक जलस्तर स्थिर बना हुआ था. पर शनिवार दोपहर से ही जलस्तर में वृद्धि होने लगी. इस संबंध में केंद्रीय जल आयोग से प्राप्त जानकारी के अनुसार बक्सर में सुबह आठ बजे जलस्तर 58.12 मीटर दर्ज किया गया था. जबकि अपराह्न तीन बजे बढ़कर 58.17 मीटर पहुंच गया है. जबकि बक्सर में चेतावनी ¨बदु 59.32 तथा खतरे का निशान 60.32 मीटर पर बना हुआ है. कनीय अभियंता कन्हैया कुमार ने बताया कि फिलहाल एक सेमी प्रति घंटा की रफ्तार से गंगा लगातार बढ़ रही है. उधर कानपुर, इलाहाबाद, वाराणसी सभी स्थानों पर जलस्तर में लगातार वृद्धि की सूचना प्राप्त हो रही है.

सोन भी दिखा सकता है तेवर

उत्तराखंड समेत तमाम पहाड़ी क्षेत्रों के अलावा पड़ोसी राज्य उत्तरप्रदेश में लगातार भारी वर्षा से तबाही की सूचना है. जबकि कानपुर बराज से लगातार चार लाख क्यूसेक पानी प्रतिदिन छोड़े जाने की सूचना है. गंगा की तमाम सहायक नदियों में लगतार उफान जारी है. जिसको देखते हुए यह कहा जा सकता है कि अभी अगले दो दिनों तक रफ्तार में कोई कमी आने की उम्मीद नहीं है. संयोग अभी तक सिर्फ इतना ही है कि सोन अभी स्थिति पर काबू पाए हुए है. वरना जिस दिन सोन में उफान आएगा कि इधर भोजपुर समेत बक्सर जिले में तबाही का मंजर दिखाई देने लगेगा.