- नौसड़ सहित कई टैंक नहीं कर रहे हैं काम

- बनने के बाद से ही नहीं चढ़ रहा है टैंक में पानी

- जीडीए कॉलोनियों में पानी टैंक बनने के बाद से ही नहीं चढ़ा है पानी

GORAKHPUR: शहर में लाखों लोगों तक पीने का साफ पानी सप्लाई करने का जलकल का दावा कागजों तक ही सिमटा हुआ है। नगर निगम एरिया में मौजूद 29 ओवरहेड टैंक में ऐसे भी शामिल हैं जिनका निर्माण होने के बाद से आज तक उन्हें भरा नहीं जा सका है। वार्ड नंबर 28 जंगल सालिकराम और वार्ड नंबर 6 हरसेवकपुर सहित कई वार्डो के हालात बेहद खस्ता हैं। यहां सप्लाई पाइप लाइन बिछाने के नाम पर सड़कें भी खोद दी गई हैं लेकिन न पानी की सुविधा मिली और न ही सड़कों को दुरुस्त किया जा रहा है। इनमें से कई टैंक ऐसे हैं जो 10-20 वर्षो से खराब पड़े हुए हैं। जीडीए कॉलोनियों में लगे ओवरहेड टैंक तो केवल हाथी के दांत बने हुए हैं। जीडीए ओवर हेड टैंक को सप्लाई के लायक तैयार नहीं कर पाया है जबकि नगर निगम को हैंडओवर नहीं होने के कारण जलकल ने उनकी जिम्मेदारी नहीं संभाली है। साथ ही कई ओवरहेड टैंक में नियमित सफाई नहीं की जा रही है। कुछ ऐसे भी टैंक हैं जिनकी सफाई दो साल से नहीं की गई है।

कराया निर्माण लेकिन भूल गए सप्लाई

नौसड़, खूनीपुर, जंगल सालिकराम सहित आधा दर्जन वार्डो में निर्माण के बाद से ही ओवरहेड टैंक में पानी नहीं भरा जा सका है। नौसड़ ओवरहेड टैंक का निर्माण इतनी घटिया क्वालिटी के साथ किया गया है कि आज तक टैंक में पूरा पानी भी नहीं भरा जा सका है। 2013 में जल निगम ने इसे जलकल को सौंपा था। खूनीपुर मोहल्ले में बना ओवरहेड टैंक तो केवल दिखाने के काम ही आता है। पानी की सप्लाई सीधे ट्यूबवेल के जरिए लोगों तक की जा रही है।

नहीं सुन रहे हैं अधिकारी

वार्ड नंबर 28 जंगल सालिकराम के पार्षद प्रतिनिधि अनिल सिंह ने बताया कि ओवरहेड टैंक का निर्माण हुए दो साल का समय बीत चुका है। सप्लाई पाइपलाइन बिछाने के लिए सड़कों को भी खोद दिया गया है। दो साल में नगर आयुक्त से लेकर जलकल जीएम तक से शिकायत की गई पर कोई कार्रवाई नहीं हुई है। वार्ड नंबर 14 पार्षद संध्या गुप्ता ने बताया कि झरना टोला में छह महीने से ओवरहेड टैंक में पानी नहीं जा रहा है। नगर आयुक्त, जलकल जीएम सहित कई अधिकारियों से शिकायत की गई पर मामला जस का तस बना हुआ है। वार्ड नंबर 51, ईस्माइलपुर के पार्षद शहाब अंसारी ने बताया कि 20 साल से भी अधिक समय से ओवरहेड टैंक खड़ा है पर इसका लाभ जनता को नहीं मिल पा रहा है।

यहां के ओवरहेड टैंक हैं खराब

खूनीपुर, वार्ड नंबर 51

नौसड़, वार्ड नंबर 19

झरना टोला, वार्ड नंबर 14

जीडीए कॉलोनी

जंगल सालिकराम, वार्ड नंबर 28

शताब्दीपुर, वार्ड नंबर 28, ट्यूबवेल भी खराब

सरस्वती शिशु मंदिर, रेल विहार, वार्ड नंबर 6

राप्ती नगर फेज-4, वार्ड नंबर 6

नेता जी सुभाषचंद्र बोस कॉलोनी, वार्ड नंबर 6

इंद्रप्रस्थ कॉलोनी, वार्ड नंबर 6

वर्जन

नौसड़ स्थित ओवरहेड टैंक को ठीक करने के लिए जल निगम को कई बार लिखा जा चुका है। बाकी टैंकों में किसी तरह की शिकायत आने पर उसे दुरुस्त किया जा रहा है।

- प्रमोद कुमार गुप्ता, जीएम, जलकल