- दैनिक जागरण-आईनेक्स्ट ने किया था अलर्ट

- मेयर का दावा हुआ फेल, काजीपाड़ा के घरों में घुसा पानी

आगरा. शहर में आफत की बारिश को लेकर दैनिक जागरण आईनेक्स्ट ने पहले ही अलर्ट किया था. लेकिन इस ओर नगर निगम प्रशासन ने लापरवाह रवैया अपनाया. उसका नतीजा सामने आने लगे हैं. शुक्रवार की बारिश में काजीपाड़ा का नाला उफान मारने लगा और घरों में पानी घुस गया. इसे लेकर स्थानीय निवासियों में आक्रोश है.

पहले ही किया था आगाह

दैनिक जागरण-आई नेक्स्ट ने मई महीने में 'डूबेगा कि बचेगा' अभियान चलाया. इसमें काजीपाड़ा के नाले को लेकर खबर प्रकाशित की गई. उसमें बताया था कि वार्ड-16 का नाला काजीपाड़ा की सफाई नहीं कराई गई है. मानसून नाला उफान मारेगा. ये नजारा शुक्रवार को देखा गया. हल्की सी बारिश में नाला काजीपाड़ा उफान मारने लगा. यहां के घरों में पानी घुस गया. लोगों को परेशानी हुई, लेकिन नगर निगम प्रशासन का अमला मरहम लगाने तक नहीं पहुंचा.

मेयर का दावे का निकला दम

मेयर नवीन जैन ने दावा किया था कि शहर को जलभराव की स्थिति से निजात मिलेगी. उन्होंने मार्च महीने से ही नालों और चोक सीवरेज की साफ-सफाई शुरू कराने की बात कही थी. लेकिन मानसून की हल्की सी बारिश में ही जगह-जगह पानी भर गया.