देवों के देव महादेव को भी सावन का महीना बहुत प्रिय है। पुराणों में कहा गया है कि अन्य दिनों के अपेक्षा सावन के दिनों में भोलेशंकर की पूजा और अभिषेक करने से कई गुणा लाभ मिलता है। इस सावन में बेहद दुर्लभ संयोग भी बन रहा है। आइए जानते हैं सावन में भगवान शिव की पूजा करते समय कौन से काम नहीं करने चाहिए…

1. सावन में शिवजी का अभिषेक करते समय कभी भी हल्दी का प्रयोग ना करें।

2. शास्त्रों में सावन के महीने में बैंगन खाना वर्जित माना गया है। उसे अशुद्ध बताया गया है। इसलिए बैंगन को द्वादशी, चतुर्दशी और कार्तिक मास में भी खाने की मनाही है।

सावन में भूलकर भी ना करें ये 7 काम,भगवान शिव हो सकते हैं नाराज

3. शिवभक्तों को कभी भी सावन में बुरे विचार मन में नहीं लाने चाहिए। इस समय धर्म संबंधी किताबों का अध्ययन करना चाहिए।

4. शास्त्रों में बताया गया है कि सावन में भक्त और ईश्वर के बीच की दूरी कम हो जाती है। इसलिए सुबह देर तक सो कर इसे व्यर्थ नहीं करना चाहिए। सुबह जल्दी उठकर शिवजी की पूजा करनी चाहिए।

5. हिंदू धर्म में सावन का विशेष महत्व बताया गया है इसलिए इस महीने में ही नहीं कभी भी मांस-मदिरा का सेवन नहीं करना चाहिए। इससे आपका मन अशुद्ध होता है और अशुद्ध मन से भगवान की पूजा नहीं की जाती।

सावन में भूलकर भी ना करें ये 7 काम,भगवान शिव हो सकते हैं नाराज

6. सावन में शिव भक्ति के लिए आपके आसपास सकारात्मक माहौल बहुत जरूरी है। उसके लिए आप हमेशा अपने घर में साफ-सफाई रखें।

7. पुराणों के अनुसार सावन महीने में स्त्री-पुरुष प्रसंग से बचना चाहिए।

-ज्‍योतिषाचार्य पंडित श्रीपति त्रिपाठी

सावन में शिवलिंग पर जल चढ़ाने के ये हैं 5 महत्व, भोलेनाथ की होती है विशेष कृपा

सावन में शिव को बिल्व 'पत्र' चढ़ाने के 4 महत्व, जानें पत्र तोड़ने का नियम