- बर्फबारी से बंद ज्यादातर मार्गो को प्रशासन ने खोला, 50 गांव अब भी जिला मुख्यालयों से कटे

- उत्तराखंड में फिलहाल साफ रहेगा मौसम, मैदानों में छा सकता है कोहरा

DEHRADUN: उत्तराखंड में मौसम खुलने के बाद लोगों को राहत मिली है. बर्फबारी से बंद ज्यादातर सड़कों को खोल दिया गया है. उत्तरकाशी जिले में गंगोत्री हाईवे हर्षिल और यमुनोत्री हाईवे जानकीचट्टी के पास बंद है. अब भी नौ सड़कें बंद हैं और 50 गांव जिला मुख्यालयों से कटे हुए हैं. मौसम विभाग के अनुसार अब फिलहाल मौसम साफ रहेगा, लेकिन मैदानी इलाकों में कोहरा छा सकता है.

संडे को साफ रहा मौसम

बर्फबारी और बारिश के बाद उत्तराखंड में दो दिन से मौसम राहत दे रहा है. रविवार को भले सुबह कुछ देर आसमान में बादलों की आंख-मिचौनी चली, लेकिन दोपहर तक धूप निकल आई. साफ मौसम के कारण सड़कों से बर्फ हटाने के कार्य ने तेजी पकड़ी. उत्तरकाशी के जिलाधिकारी डॉ. आशीष चौहान ने बताया कि जिले में 12 सड़कों पर आवागमन बहाल कर लिया गया है. उन्होंने बताया कि शेष चार पर सोमवार तक यातायात संचालित किया जाने लगेगा. इसके अलावा दो दर्जन गांवों में बिजली व्यवस्था सुचारु कर ली गई है. हालांकि अब भी करीब 14 गांव अंधेरे में डूबे हैं.

गमशाली गांव में फंसे तीन ग्रामीण

भारी बर्फबारी के बाद तीन ग्रामीण चीन सीमा पर स्थिति गमशाली गांव में फंसे हुए हैं. इनमें से एक की तबीयत खराब है. ये लोग पांच दिन पांच फरवरी को किसी काम से यहां आए थे. बताया जा रहा है कि फिलहाल ये तीनों गांव के पास आईटीबीपी के शिविर में है. दरअसल, गमशाली गांव के लोग सर्दियों में जोशीमठ के पास के इलाकों में आ जाते हैं और गर्मियां शुरु होते ही गांव लौट जाते हैं. जोशीमठ के एसडीएम योगेंद्र सिंह ने बताया कि तीनों आईटीबीपी कैंप में सुरक्षित हैं.