- 39 सड़कें बंद, 400 से ज्यादा गांवों में अंधेरे में डूबे, शीतलहर की चपेट में प्रदेश

- आज से साफ रहेगा मौसम, उत्तरकाशी में ताजी बर्फ ने बढ़ाई मुसीबत

dehradun@inext.co.in

DEHRADUN: उत्तराखंड में बारिश और बर्फबारी का दौर सुबह तक चलता रहा. भारी बर्फबारी के कारण गंगोत्री, यमुनोत्री और बदरीनाथ हाईवे समेत 39 सड़कों पर आवाजाही ठप हो गई है. 125 से ज्यादा गांव अलग-थलग पड़ गए हैं. बर्फबारी के कारण 400 से ज्यादा गांवों में अंधेरा पसरा हुआ है. बारिश और बर्फबारी से ठंड बढ़ गई है. मौसम विभाग के अनुसार शनिवार से मौसम साफ रहेगा.

सड़कें बंद, यात्री हुए परेशान
मूसरी, चकराता, धनोल्टी, नागटिब्बा और सुरकंडा समेत बदरीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री के साथ ही चमोली की निजमूला और उत्तरकाशी की गंगा-यमुना घाटी के गांव बर्फ से लकदक हो गए. शुक्रवार को धूप खिलने से लोगों को राहत मिली, लेकिन दुश्वारियों बरकरार हैं. सड़कों पर कई जगह वाहन फंसने से यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ा. बर्फबारी के कारण मसूरी-चम्बा मार्ग बंद हो गया है. इसके अलावा चमोली में औली-जोशीमठ मार्ग पर भी आवाजाही बंद है. उत्तरकाशी जिले में ताजी बर्फ ने मुसीबत फिर बढ़ा दी है. जिले में करीब 45 गांव जिला मुख्यालय से अलग-थलग पड़ गए हैं. डेढ़ दर्जन सड़कें बंद हैं और करीब 50 गांवों में बिजली गुल है. चमोली और देहरादून के जौनसार-बावर क्षेत्र में हालात कुछ ऐसे ही हैं. टिहरी जिले के दूरस्थ नैनबाग क्षेत्र में बर्फबारी से आधा दर्जन गोशालाएं क्षतिग्रस्त होने की सूचना है. कुमाऊं के पिथौरागढ़ में रातभर तेज गरज, बिजली चमकने और बादल गरजते रहे. जिले के मुनस्यारी में भारी हिमपात के बाद थल -मुनस्यारी मार्ग बंद हो चुका है.

मसूरी में बर्फ देखने उमड़े पर्यटक
मसूरी में आधी रात को बर्फबारी के बाद सुबह सैलानियों के मसूरी पहुंचने का सिलसिला शुरू हो गया. पिछले माह 22 जनवरी के बाद यह तीसरा मौका है जब शहर में बर्फ पड़ी है. पर्यटक मसूरी की सैर कर ही संतुष्ट हैं. वजह यह कि निकटतम धनोल्टी और सुरकंडा जाने वाला मार्ग बंद होने के कारण सैलानी वहां नहीं पहुंच पाए. बारिश और बर्फबारी के बाद मसूरी में पारा लुढ़क गया है. गुरुवार को यहां न्यूनतम तापमान 5.6 रिकार्ड किया गया था, जो शुक्रवार को शून्य से नीचे पहुंच गया. नई टिहरी और मुक्तेश्वर में भी तापमान शून्य से नीचे रहा, जबकि जोशीमठ में यह शून्य रिकार्ड किया गया.