- होली जाते ही सूर्य देव ने तरेरी आंखें, दिन में छूटा पसीना

- मई-जून में सूर्य के उत्तरायण होने से टूटेगा गर्मी का रिकार्ड

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: पिछले कई दिनों दिन प्रतिदिन मिजाज बदल रहे मौसम ने होली बाद ही अपना रुख स्पष्ट कर दिया है. शुक्रवार को सूर्य देव ने ऐसी तल्खी दिखाई कि लोगों को पसीने से तर बतर होना पड़ा. मौसम विज्ञानियों का कहना है कि इस बार गर्मी पुराने रिकार्ड ध्वस्त कर सकती है. अप्रैल में ही लोगों को तेज गर्म हवाओं का सामना करना पड़ सकता है. इसलिए गनीमत इसी में है कि अभी से अपना कूलर-एसी ठीक कर लीजिए.

तपिश ने झुलसाया

बता दें कि मार्च के शुरुआत में ही तापमान सामान्य से ज्यादा रहा. लेकिन इसके बाद आंधी पानी और ओलावृष्टि ने मौसम के मिजाज को नर्म कर दिया. इसके बाद नरमी और तल्खी का सिलसिला चलता रहा. होली के ठीक पहले हुआ, 23 और 24 को मौसम ने राहत दी, लेकिन अचानक शुक्रवार को फिर से दिन में तेज धूप और तपिश ने पसीना निकाल दिया. मौसम विज्ञानियों का कहना है कि ये गर्मी का आगाज है. जैसे-जैसे सूर्य उत्तरायण होगा, गर्मी में इजाफा होता जाएगा.

मानसून कमजोर होने से बढ़ी गर्मी

देखा जाए तो पिछले साल मानसून के साथ-साथ सर्दी भी अपेक्षाकृत कमजोर रही. मौसम के इस बदलाव ने लोगों को करारा झटका दिया. इसको देखते हुए मौसम विज्ञानियों ने पहले से ही मौजूदा साल में ताबड़तोड़ गर्मी पड़ने की भविष्यवाणी कर डाली है. उनका कहना है कि ग्लोबल वार्मिग और लगातार बढ़ते प्रदूषण की वजह से इस साल लोगों को मई और जून में जमकर पसीना बहाना पड़ेगा. एग्जाम्पल के तौर पर मार्च में पारा 37 डिग्री के पार हो गया है, इसे 30 डिग्री सेल्सियस के आसपास होना चाहिए.

तो कैसे चलेगा काम

मौसम विज्ञानियों की मानें तो तापमान अब लगातार चढ़ेगा. अप्रैल की शुरुआत में मौसम कुछ बदल सकता है, लेकिन इसकी उम्मीद काफी कम है. जानकारों का मानना है कि पिछले कुछ सालों से इलाहाबाद का तापमान बढ़ रहा है. इसके पीछे पर्यावरण प्रदूषण, ग्लोबल वार्मिग एवं पेड़ों की कटाई को कारण माना जा रहा है. इलाहाबाद यूनिवर्सिटी के मौसम विज्ञानी डॉ. एसएस ओझा की मानें तो जैसे-जैसे सूर्य उत्तरायण होता जाएगा, तापमान में वृद्धि होती जाएगी. इस बार गर्मी मई और जून में 48 डिग्री का आंकड़ा पार कर सकती है.

रात का तापमान भी बढ़ा

शुक्रवार को दिन के साथ-साथ रात के तापमान में भी बढ़ोतरी देखी गई. गुरुवार को जहां अधिकतम तापमान 36 डिग्री था वहीं यह शुक्रवार को 37.3 डिग्री पहुंच गया. वहीं न्यूनतम तापमान 15.8 की जगह 16.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया.

फैक्ट फाइल

- मार्च में ही सात डिग्री अधिक पहुंच गया है तापमान

- एक्सप‌र्ट्स के अनुसार अधिकतम 30 डिग्री होना चाहिए तापमान

- सूर्य के उत्तरायण में जाते ही बढ़ने लगेगा तापमान

- मई- जून में 48 डिग्री तक पहुंच जाएगा तापमान

- प्रदूषण और ग्लोबल वार्मिग के चलते बढ़ रहा इलाहाबाद का तापमान