कानपुर।  सुप्रीम कोर्ट द्वारा बीते साल दिसंबर में ट्रिपल तलाक को अपराध की श्रेणी में रखने के बाद भी तीन तलाक के मामले थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। हाल ही में मुंबई से सटे भिवंडी शहर में एक चाैकाने वाला मामला सामने आया है। मिड डे की एक रिपोर्ट के मुताबिक पीड़िता आरजू शेख का निकाह साल 2014 में इंजीनियर नदीम शेख के साथ हुआ था। निकाह दोनों की पसंद से था और उसे एक 4 साल का बच्चा भी है।

पत्नी व्हाट्सऐप पर तलाक देख हुई हैरान
आरजू शेख की पति के साथ काफी दिनों से अनबन चल रही थी। ऐसे में अचानक से व्हाट्सऐप पर तलाक से वह हैरान है। आरजू का कहना है कि निकाह के एक साल तक तो सब अच्छा था लेकिन उसके बाद नदीम ने मारपीट शुरू कर दी। अक्सर नशे में घर लौटता था। इतना ही नहीं अक्सर वह दो से तीन दिन तक घर से बाहर भी रहने लगा था। इधर एक महीने  से घर नहीं आया और अब अचानक से तलाक का मैसेज भेज दिया।
पत्नी को मायके से लाैटने में हुई 10 मिनट की देर तो पति ने फोन पर दे दिया तलाक
सिर्फ इसलिए सऊदी से शौहर ने दिया फोन पर तलाक, दर्ज हुई FIR
अपनी और बच्चे की भलाई के लिए लड़ेगी

पति के इस कदम से आहत आरजू शेख का कहना है कि वह चुप नहीं बैठेगी और न वह इस तलाक को मानेगी। अपनी और बच्चे की भलाई के लिए लड़ेगी। फिलहाल भोईवाड़ा पुलिस में उसने अपना लिखित बयान दे दिया है। वहीं भोईवाड़ा पुलिस स्टेशन के एक अधिकारी का कहना है कि यह एक फैमिली मैटर है। सबसे पहले नदीम शेख को नोटिस भेजेंगे। इसके बाद डोमेस्टिक सेल के जरिए इनकी शादी बचाने की कोशिश करेंगे।

National News inextlive from India News Desk