कानपुर। ऑस्ट्रेलिया के दाएं हाथ के दिग्गज बल्लेबाज सर डॉन ब्रैडमैन का जन्म 27 अगस्त 1908 को हुआ था। 20 साल की उम्र में पहला इंटरनेशनल मैच खेलने वाले ब्रैडमैन ने अपने करियर में कई बड़े-बड़े रिकॉर्ड बनाए। खासतौर से टेस्ट में 99.94 का औसत तो किसी भी बल्लेबाज के लिए एक सपने जैसा है। ऐसा ही एक अविश्वसनीय रिकॉर्ड ब्रैडमैन ने साल 1931 में बनाया था। वो मैच ब्लैकहीथ इलेवन बनाम लिथगो इलेवन के बीच ब्लू माउंडेन शहर में खेला गया था। ईएसपीएन क्रिकइन्फो के डेटा के मुताबिक, ब्लैकहीथ की तरफ से ब्रैडमैन और वेंडल बिल बल्लेबाजी करने मैदान में उतरे। अभी तीन ही ओवर पूरे हुए थे कि ब्रैडमैन के खाते में सौ रन जुड़ गए थे।

तीन ओवर में ठोंकी सेंचुरी
दरअसल उस मैच में ब्रैडमैन ने इतनी तूफानी बल्लेबाजी की रिकॉर्ड्स की झड़ी लग गई। 20वीं सदी के सबसे महान बल्लेबाज ने इस मैच में 3 ओवर में शतक जड़ दिया था। हालांकि उस वक्त एक ओवर में 8 गेंदें फेंकी जाती थी और ब्रैडमैन ने पहले ओवर में 6,6,4,2,4,4,6,1 कुल (33) रन बनाए। फिर दूसरे ओवर में 6,4,4,6,6,4,6,4 कुल (40) रन बनाए फिर तीसरे ओवर में ब्रैडमैन के बल्ले से 1,6,6,1,1,4,4,6 कुल (27) रन बनाए और इसमें 2 दो वेंडल ने भी बनाए थे। विपक्षी टीम ब्रैडमैन की यह पारी देख हैरान रह गई थी।

18 मिनट में बना दिए सौ रन
ब्रेडमैन ने आउट होने से पहले 256 रन की पारी खेली जिसमें 100 रन उन्होंने 18 मिनट में बना दिए थे। ब्रैडमैन की इस पारी में कुल 14 छक्के और 29 चौके लगे। यह तो सिर्फ एक मैच का हाल है, ब्रैडमैन ने इस तरह के अनोखे रिकॉर्ड पूरे करियर में कई बार बनाए। ब्रैडमैन के ही नाम टेस्‍ट इतिहास में सबसे ज्‍यादा डबल सेंचुरी बनाने का रिकॉर्ड है। उन्‍होंने अपने करियर में 12 डबल सेंचुरी बनाई हैं। यही नहीं इंग्‍लैंड के खिलाफ एशेज श्रंखला में एक सीरीज में 974 रन बना कर सर ब्रैडमैन एक सीरीज में सबसे ज्‍यादा रन बनाने वाले बल्‍लेबाज हैं। ये रिकॉर्ड भी अभी तक कायम है।

आखिरी मैच में जीरो पर आउट

ब्रैडमैन ने अपने करियर का आखिरी मैच 14 अगस्त 1948 में ओवल में खेला था। ऑस्ट्रेलियाई टीम पांच मैचों की टेस्ट सीरीज खेलने इंग्लैंड आई थी। पांचवां और आखिरी मैच ओवल मैदान पर खेला गया। इस मैच से पहले ब्रैडमैन को 100 के टेस्ट औसत तक पहुंचने में मात्र 4 रन की जरूरत थी। कंगारू टीम दूसरी पारी में बैटिंग करने आई। सभी की निगाहें ब्रैडमैन पर टिकी थीं। 117 रन पर एक विकेट गिरने के बाद ब्रैडमैन क्रीज पर आए, इधर यह दिग्गज बल्लेबाज स्ट्राइक पर था उधर गेंद इंग्लिश गेंदबाज एरिक होलीस के हाथों में थी। एरिक को टेस्ट खेलने का ज्यादा अनुभव नहीं था, मगर उन्होंने पहले ओवर की दो गेंदों के अंदर ही ब्रैडमैन को पवेलियन भेज दिया। एरिक की दूसरी गेंद गुगली थी जिसे ब्रैडमैन भी नहीं पढ़ पाए और बोल्ड हो गए और उनका टेस्ट औसत 99.94 ही रह गया।

ऐसा है ब्रैडमैन का रिकॉर्ड
डॉन ब्रेडमैन ने अपने करियर में कुल 234 फर्स्‍ट क्‍लॉस मैच खेले हैं। जिसमें उन्‍होंने 95 की औसत से कुल 28,067 रन बनाए। इस दौरान उनके बल्‍ले से 117 शतक और 69 अर्धशतक निकले। फर्स्‍ट क्‍लॉस क्रिकेट में उनका सर्वाधिक व्‍यक्‍ितगत स्‍कोर 452 रन है। अब अगर टेस्‍ट क्रिकेट की बात करें तो इस ऑस्‍ट्रेलियाई दिग्‍गज ने 52 टेस्‍ट खले हैं जिसमें उनके नाम 6,996 रन दर्ज है।

इस गेंदबाज के चलते ब्रैडमैन का औसत नहीं हो पाया था 100 का, आखिरी मैच में जीरो पर हुए आउट

जरा बताओ सर डॉन ब्रैडमैन ने कितने सिक्‍सर मारे नहीं तो फिर पढ़ो

Cricket News inextlive from Cricket News Desk