लड़कियां ऐसे ही बैठती हैं
मर्दो के लिए क्रॉस पैर करके बैठना शायद आम न हो लेकिन महिलाओं के लिए बैठने का यह तरीका फेमिनिन माना जाता है। घर हो या बाहर महिलाएं हमेशा क्रॉस पैर करके बैठना ही पसंद करती हैं। जोकि बिल्‍कुल गलत तरीका है। रिपोर्ट की मानें तो लम्बे समय तक इस तरह बैठने से कई गंभीर स्वास्थ्य सम्बंधित परेशानियां हो सकती हैं। इसके तहत पेरोनियल नर्व पेल्‍सी या पैरालिसिस तक हो सकता है।

क्रॉस पैर करके बैठने से आप जल्‍द हो जाएंगे बूढ़े,जाने और क्‍या हैं नुकसान
खून का बहाव होता है प्रभावित
पेरोनियल नर्व पेल्‍सी आपके पैरों के मूवमेंट को बाधित कर देता है। यानी कि टांगों में खून का बहाव ठीक तरह से नहीं हो पाता। क्रास पैर करके बैठने से पैरों की नसें उभरने लगती हैं और Varicose Veins की समस्या होने लगती है, जिसे 'Spider' Veins भी कहा जता है। इससे नसों में सूजन भी आ जाती है।

जल्‍द हो जाएंगे बूढे
अगर आप जल्दी बूढ़े नहीं दिखना चाहते हैं तो क्रॉस पैर करके बैठना भूल जाइए। एक टांग पर दूसरी टांग रख कर बैठने पर जांघों की मसल्‍य भी प्रभावित होती हैं, जिससे ज्‍वॉइंटस में परेशानी आ सकती है। यही नहीं, इससे कूल्हों और कमर में भी परेशानी हो सकती है।

Health News inextlive from Health Desk

inextlive from News Desk