सड़क पर वाहन चलाते समय ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन भारी पड़ेगा. यातायात नियमों को तोड़ने वाले ड्राइवर्स का लाइसेंस कैंसिल कर दिया जाएगा. सुप्रीम कोर्ट की रोड सेफ्टी कमेटी की गाइडलाइन के अनुपालन में आरटीओ कार्रवाई में जुटा है. हर माह औसतन 10 से अधिक ड्राइविंग लाइसेंस पर कार्रवाई हो रही है. तीसरी बार ट्रैफिक नियम तोड़ने पर इनका लाइसेंस कैंसिल कर दिया जाएगा. पहले भी 35 से अधिक लोगों का लाइसेंस कैंसिल किए जा चुके हैं. आरटीओ के अधिकारियों ने बताया कि पहली बार की गलती में तीन माह के लिए लाइसेंस सस्पेंड किया जाता है.

पहली गलती पर तीन माह का दंड

सड़क हादसों को रोकने के लिए सुप्रीम कोर्ट की रोड सेफ्टी समिति ने कार्रवाई का निर्देश दिया है. रोड सेफ्टी कमेटी की गाइड लाइन को पूरा करने के लिए आरटीओ ने कमर कस लिया है. इसलिए ट्रैफिक नियमों को तोड़ने वालों पर सख्ती बरती जा रही है. नियम तोड़ने पर पहली बार तीन माह के लिए डीएल निलंबित किया जा रहा है. दोबारा ऐसे लोगों पर नजर रखी जा रही है कि यदि नियम टूटता मिले तो कार्रवाई की जाएगी. इस तरह से जो लोग तीन बार नियम तोड़ेंगे. उनका लाइसेंस कैंसिल करने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है. चेकिंग के दौरान आरटीओ आनलाइन चालान काट रहा है. इससे किसी के लिए भी बच पाना मुश्किल होता जा रहा है.

इनके उल्लंघन पर कार्रवाई


ओवर स्पीड

ओवर लोडिंग

ड्राइविंग करते हुए मोबाइल यूज

रेड लाइट जंप

ड्रिंक ड्राइव

सड़क पर चलते समय बरतें सावधानी

रोड सिग्नल कभी न तोड़े

ड्रंक एंड ड्राइव से बचें यानी शराब पीकर गाड़ी न चलाएं.

शहर के भीतर निर्धारित स्पीड से वाहन चलाएं.

18 साल से कम उम्र के बच्चों को वाहन चलाने को न दें.

व्यस्त सड़कों पर गाड़ी की पार्किंग न करें.

टू व्हीलर चलाने वाले जिग जैग तरीके से न चलें.

बहुत तेज रफ्तार में वाहन चलाने से परहेज करें.

गलत साइड से ओवरटेक न करें.

पहली बार नियम तोड़ने पर लाइसेंस तीन माह के लिए सस्पेंड किया जाता है. तीन बार गलती होने पर लाइसेंस कैंसिल कर दिया जाएगा. पहले भी यह कार्रवाई हो चुकी है. हर माह औसतन 10 वाहन चालकों के खिलाफ कार्रवाई हो रही है.

एसआर पाल, एआरटीओ प्रशासन

National News inextlive from India News Desk