मिड डे, मुंबई। अक्षय कुमार और कियारा आडवाणी स्टारर लक्ष्मी बम के निर्देशक के रूप में "असम्मान" और रचनात्मक मुद्दों पर मतभेदों के चलते अलग होने के एक सप्ताह बाद, राघव लॉरेंस ने संकेत दिया है कि वे फिल्म से जुड़ने के बारे में पुनर्विचार कर सकते हैं। उन्होंने अपने नए ट्वीट में कहा है कि यदि उन्हे वो सम्मान फिर मिले जिसके वे हकदार हैं, तो उन्हें फिल्म के साथ वापसी में कोई आपत्ति नहीं होगी।

फिल्म निर्माताओं को लेना है फैसला
लॉरेंस अपनी तमिल हॉरर कॉमेडी कंचना (2011) के हिंदी रीमेक का निर्देशन करने के लिए पूरी तरह तैयार थे, जब उन्होंने आत्मसम्मान के मुद्दे के चलते ट्विटर पर अपने अलग होने की घोषणा की थी। अब 26 मई को, एक नए ट्वीट में, लॉरेंस ने कहा है कि मामला अब पूरी तरह से निर्माताओं के हाथों में है। फिल्म निर्माता उनसे मिलने के लिए चेन्नई जा रहे हैं। ये जानकारी देते हुए उन्होंने स्पष्ट किया कि अगर उचित आत्म-सम्मान दिया जाता है, तो वे इसके बारे में सोचेंगे। लॉरेंस ने ये कहा कि देखें कि बैठक के बाद क्या नतीजा होता है।

फैंस की खातिर लेंगे फैसला
राघव लॉरेंस का कहना है कि वे इस संदेश को उन प्रशंसकों के साथ साझा करना चाहते थे जो वास्तव में फिल्म से जुड़ाव अनुभव करते हैं। लॉरेंस ने यह भी कहा है कि वह निर्माताओं को अपनी स्क्रिप्ट का उपयोग करने से नहीं रोकेंगे यदि वे किसी और निर्देशक ले लेते हैं। उन्होंने आगे लिखा कि, अक्षय कुमार और उनके प्रशंसक दोनों ट्वीट करके उनसे यह फिल्म करने के लिए अनुरोध कर रहे हैं। वे उनके वास्तविक प्यार से अभिभूत हैं, और पिछले एक सप्ताह से उनकी तरह ही परेशान हैं। राघव ने लिखा है कि इस फिल्म को निर्देशित करने के लिए उन्होंने बहुत लंबा इंतजार किया था, प्री-प्रोडक्शन कार्यों पर एक लंबा समय बिताया और इस फिल्म के लिए अपनी काफी तारीखों को भी ब्लॉक कर दिया, क्योंकि वे इस फिल्म को करने के लिए बहुत रोमांचित थे।

राघव लॉरेंस लक्ष्मी बम के सेट पर करेंगे वापसी!

क्या था मामला
दरसल लक्ष्मी बम मूवी को डायरेक्ट कर रहे राघव लॉरेंस क्रिएटिव टीम से नाराज हो गए थे और यह कहते हुए इस मूवी से खुद को अलग कर लिया था कि टीम ने उनकी बेइज्जती की है। राघव इस बात से दुखी थे कि उन्हें बिना बिताए और बिना कुछ डिस्कस किए मूवी का पोस्टर रिलीज कर दिया गया। ट्विटर पर इस मूवी से अलग होने की वजह शेयर करते हुए राघव ने लिखा, 'प्यारे दोस्तों और फैन्स, तमिल में एक पुरानी कहावत है कि उस घर में पैर भी मत रखो जहां इज्जत न मिले। इस दुनिया में पैसे और फेम से ज्यादा इंसान की सेल्फ-रिस्पेक्ट जरूरी होती है इसलिए मैंने कंचना की हिंदी रीमेक लक्ष्मी बम से अलग होने का फैसला किया है। इसके पीछे कई वजहें हैं, पर उनमें से एक वजह यह है कि 18 मई मूवी का फर्स्ट लुक पोस्टर बिना मेरी जानकारी के रिलीज कर दिया गया। इस बारे में मुझसे कोई बात भी नहीं की गई और इसकी रिलीज के बारे में मुझे किसी तीसरे शख्स से पता चला। एक डायरेक्टर के लिए यह बहुत तकलीफ देने वाली बात होती है कि उसकी मूवी के पोस्टर रिलीज की खबर उसे किसी बाहरी शख्स से मिले। मुझे बहुत बेइज्जती महसूस हो रही है और दुख भी। एक क्रिएटर के तौर पर मैं पोस्टर के डिजाइन से भी खुश नहीं हूं। ऐसा कभी किसी दूसरे डायरेक्टर के साथ नहीं होना चाहिए।

Bollywood News inextlive from Bollywood News Desk