प्रक्रिया अंतिम चरण में

इस नियम को समाप्त करने के लिए संबंधित फाइल प्रक्रिया अंतिम चरण पर है. दो-तीन दिनों में यह आदेश जारी हो जाएगा. यह बात परिवहन विभाग के सचिव संजय कुमार अग्रवाल ने दैनिक जागरण आई नेक्स्ट से बातचीत के दौरान कही.

बिक्री हो रही थी प्रभावित

मौके पर मौजूद डीटीओ अजय ठाकुर ने परिवहन सचिव को बताया कि अब तक पटना में 2000 ई-रिक्शा का रजिस्ट्रेशन हो सका है. यह संख्या कम है. इसका कारण है कि ई-रिक्शा खरीदने वालों को पहले ड्राइविंग लाइसेंस का होना जरूरी है. इस कारण से पटना में इसकी बिक्री प्रभावित हो रही थी.

ई-रिक्शा को बढ़ावा देना जरूरी

परिवहन विभाग के सचिव ने बताया कि राजधानी को प्रदूषणमुक्त करने के लिए ई-रिक्शा को बढ़ावा दिया जाना जरूरी है. वे बरोजगारों को भी ई-रिक्शा से जोड़ने का काम करेंगे. फिलहाल पटना के शहरी एरिया में पियाजो या ऑटो को नया परमिट जारी नहीं किए जाने की बात डीटीओ ने कही.