JAMSHEDPUR: बेकाबू टैक्टर ने पैदल जा रही एक महिला को रौंद डाला और ड्राइवर गाड़ी छोड़कर फरार हो गया। हादसा मंगलवार को बिरसानगर जोन नंबर दो में हुआ। स्कूल से अपनी बेटी को लाने के लिए सुमित्रा लोहार (35) पैदल जा रही थी। इस दौरान ट्रैक्टर की चपेट में आ गई।

घटनास्थल पर स्थानीय लोगों का अमानवीय चेहरा तब दिखा, जब वे सड़क पर घायल पड़ी सुमित्रा की मदद करने या उसे अस्पताल ले जाने के बजाय मोबाइल पर वीडियो बनाते रहे। सुमित्रा दर्द से कराहती रही और लोग वीडियो बनाने में व्यस्त रहे। घटना के दौरान सुमित्रा के साथ उसकी भतीजी मंजू भी पैदल जा रही थी। वह दुर्घटना में बाल-बाल बच गई थी, सो उसी ने अपने घर जाकर परिजनों को घटना की जानकारी दी। इसके बाद परिजन घटनास्थल पर पहुंचे, तब जाकर महिला को अस्पताल ले जाया जा सका। सुमित्रा के बड़े भाई जोगेश्वर लोहार ने अपनी बाइक पर बैठा कर सुमित्रा को टाटा मोटर्स अस्पताल पहुंचाया। अस्पताल में जांच के बाद डॉक्टरों ने सुमित्रा का मृत घोषित कर दिया। सुमित्रा के पति बुद्देश्वर लोहार की पांच साल पहले ही बिमारी से मौत हो गई थी। तमन्ना सुमित्रा की इकलौती बेटी है।

बिरसानगर थाना घेरा

इधर घटना के बाद आक्रोशित लोगों ने चालक और मालिक की गिरफ्तारी की मांग को लेकर बिरसानगर थाना का घेराव कर दिया। दबाव बढ़ने पर पुलिस ट्रैक्टर मालिक राजेश घोष के पिता को जांच के लिए थाने लेकर आई। बिरसानगर थाना में सुमित्रा के देवर अनिल लोहार के बयान पर चालक के खिलाफ मामला दर्ज कराया गया है।

घटना की जानकारी देते हुए सुमित्रा की भतीजी मंजू लोहार, जो घटना के समय साथ थी, ने बताया कि चचेरी बहन (तमन्ना) इडेंस स्कूल में चौथी कक्षा में पढ़ती है। चाची (सुमित्रा) के साथ वह तमन्ना को लाने पैदल ही स्कूल की तरफ जा रही थी। स्कूल से ठीक पहले आगे से आ रहे एक ट्रैक्टर ने चाची को धक्का मार दिया, जिससे वह सड़क पर ही गिर गई। मैने सभी से मदद मांगी पर सभी फोटो लेने में व्यस्त थे।

पकड़ने के दौरान घायल हुआ ट्रैक्टर मालिक

घटना के छह घंटे बाद बस्तीवासियों को सूचना मिली की ट्रैक्टर मालिक राजेश घोष सिदगोड़ा स्थित एआईडब्लयुसी स्कूल के पास देखा गया है। बस्तीवालों ने इसकी जानकारी बिरसानगर थाने में दी। पुलिस और बस्ती वालों को आता देख राजेश घोष भागने लगा। इस दौरान गिरने से राजेश घोष के सिर पर चोट आ गई। वहीं पुलिस का कहना है कि बस्तीवासियों ने राजेश के साथ मारपीट की, इससे उसे चोट आई है। राजेश से मारपीट करने के आरोप में बिरसानगर पुलिस ने बस्ती के मोहन बेहरा को गिरफ्तार किया है। वहीं बस्तीवालों ने पुलिस पर यह आरोप लगाते हुए दोबारा थाना का घेराव कर दिया कि पुलिस ने राजेश के साथ मारपीट करने के झूठे मामले में मनोज को गिरफ्तार किया है। माहौल बिगड़ता देख बिरसानगर थाना प्रभारी ने थाने में फोर्स की तैनाती कर दी। हालांकि थाना प्रभारी के समझाने पर मामला शांत हो गया।

दुर्घटना में महिला की मौत हुई है। बस्ती के मोहन बेहरा ने ट्रैक्टर मालिक राजेश घोष के साथ मारपीट की इसलिए उसे थाने लाया गया। जिसके बाद बस्तीवालों ने थाने का घेराव किया। फिलहाल स्थिति काबू में है।

भूषण कुमार, थाना प्रभारी, बिरसानगर थाना