- आरोपियों को कोर्ट में पेश करने के बाद 5ोजा गया जेल

HARIDWAR: वन विभाग की टीम ने लाखों रुपये कीमत की खैर की लकड़ी के साथ पांच वन तस्करों को गिरफ्तार किया है. आरोपियों को कोर्ट में पेश करने के बाद जेल भेज दिया गया. वन विभाग की इस सफलता में मार्शल डॉग ने महत्वूपर्ण भूमिका निभाई.

वन विभाग की टीम ने की छापेमारी

पथरी क्षेत्र के जंगल से वन माफिया द्वारा खैर के पेड़ों का कटान कराया जा रहा था. जंगल में पेड़ काटने की सूचना पर वन विभाग की टीम मौके पर पहुंची. टीम को देख माफिया काटी गई लाखों रुपये की लकड़ी छोड़कर फरार हो गए. टीम की ओर से मार्शल डॉग की मदद से रातभर क्षेत्र में तलाश की गई. वन रेंजर दिनेश नौडि़याल के नेतृत्व में टीम ने शिवगढ़ से एक मुख्य वन तस्कर दिनेश उर्फ जान्नू को गिरफ्तार कर लिया. उसने पूछताछ के दौरान तीन अन्य लोगों के नाम वन तस्करी में शामिल होने की बात बताई. जिस पर टीम ने शिवगढ़ में ही कई स्थानों पर छापेमारी कर कपिल, अर¨वद, विपिन को पकड़ लिया. रेंजर की ओर से चारों से एक साथ पूछताछ की गई तो उन्होंने वन तस्करी में मुख्य सरगना सुल्तानपुर कुन्हारी के तनवरी का नाम बताया. टीम ने मुख्य सरगना को पकड़ने के लिए सुल्तानपुर कुन्हारी में छापा मारा. जहां से वन सरगना तनवरी को गिरफ्तार कर लिया गया. रेंजर ने बताया कि आरोपियों को कोर्ट में पेश किया गया, जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया.