agra@inext.co.in

AGRA. संगमरमरी चादर ओढ़े ताजमहल की छांव से रविवार को पर्यावरण स्वच्छता का संदेश दिया गया, जो पूरे विश्व में सुना गया. इस मौके की इसलिए ज्यादा अहमियत रही, क्योंकि पर्यावरण संरक्षण का गवाहगार ताजमहल रहा. पर्यावरण संरक्षण को दशहरा घाट पर यूनाइटेड नेशंस इन्वायरमेंट प्रोग्राम (यूएनईपी) के एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर एरिक सोल्हेम, केंद्रीय संस्कृति, पर्यावरण एवं जलवायु परिवर्तन राज्य मंत्री डा. महेश शर्मा और अभिनेत्री दीया मिर्जा ने सफाई की. इसके बाद सभी ताज महल देखने पहुंचे.

2022 तक प्लास्टिक फ्री होगा आगरा

पांच जून को पर्यावरण दिवस मनाया जाएगा. इस बार प्लास्टिक फ्री की मुहिम चलाई जानी है. इसकी थीम रखी गई है कि 'बीट प्लास्टिक पॉल्यूशन'. इस बार यूएनईपी के कार्यक्रम की मेजबानी भारत कर रहा है. इसकी आगरा से शुरुआत करने का मकसदविश्व पटल में ताममहल की अलग ख्याति बनानी भी है. रविवार को स्वच्छ पर्यावरण कार्यक्रम से दुनिया को संदेश दिया गया कि भारत पर्यावरण संरक्षण को लेकर गंभीर है. 2022 तक आगरा प्लास्टिक फ्री होगा.


11 सदस्यीय कमेटी बनेगी

ताजमहल के संरक्षण और बेहतरी के लिए एक 11 सदस्यीय एडवाइजरी बोर्ड का गठन किया जाएगा. इसमें समाजसेवी, चिकित्सक और पत्रकार भी शामिल होंगे. ये बातें पर्यावरण सुधार की बैठक में केंद्रीय संस्कृति मंत्री डा. महेश शर्मा ने कहीं. उन्होंने कहा कि आगरा की बैठक के समक्ष आए सुझावों पर दिल्ली पर मंथन होगी.

National News inextlive from India News Desk