जीवन और पर्यावरण को तेजी प्रभावित करता है
कानपुर।
दुनियाभर में इस समय प्लास्टिक पॉल्यूशन एक गंभीर समस्या बन गया है। अरबों प्लास्टिक के बैग हर साल कूड़े के रूप में फेंके जाते हैं, जो नालियों से आगे बढ़ते हुए नदियों और महासागरों तक पहुंच जाते हैं। चूंकि प्लास्टिक स्वाभाविक रूप से विघटित नहीं होता है इसलिए यह प्रतिकूल तरीके से नदियों, महासागरों आदि के जीवन और पर्यावरण को तेजी प्रभावित करता है। प्लास्टिक पॉल्यूशन के चलते हर साल लाखों पशु और पक्षी मारे जाते हैं जो पर्यावरण संतुलन के लिए अत्यंत चिंता का विषय है। आइये प्लास्टिक पॉल्यूशन से संबंधित कुछ प्रमुख जानकारी हासिल करने के साथ उन्हें दूर करने के उपाय के बारे में जानें।

क्या है प्लास्टिक पॉल्यूशन
जमीन या पानी में प्लास्टिक उत्पादों के ढेर को प्लास्टिक प्रदूषण कहा जाता है। इससे मनुष्य, पक्षी और जानवरों के जीवन पर बहुत बुरा प्रभाव पड़ता है। संयुक्त राष्ट्र की एक रिपोर्ट के मुताबिक, प्लास्टिक मुख्य रूप से पेट्रोलियम पदार्थों से उत्सर्जित सिंथेटिक रेजिन से बनता है। रेजिन प्लास्टिक मोनोमर्स अमोनिया और बेंजीन का संयोजन करके बनाया जाता है। प्लास्टिक में क्लोरीन, फ्लोरीन, कार्बन, हाइड्रोजन, नाइट्रोजन, ऑक्सीजन और सल्फर शामिल होते हैं।

सबसे अधिक पैकेजिंग में होता है प्लास्टिक का इस्तेमाल
संयुक्त राष्ट्र की एक रिपोर्ट के मुताबिक, दुनिया में कुल प्लास्टिक उत्पादों का 40 प्रतिशत इस्तेमाल पैकेजिंग के लिए किया जाता है, जबकि 20 प्रतिशत बिल्डिंग और कंस्ट्रक्शन में, 9 प्रतिशत ऑटोमोटिव में, 6 प्रतिशत इलेक्ट्रॉनिक्स में, 3 प्रतिशत एग्रीकल्चर में और 22 प्रतिशत प्लास्टिक का इस्तेमाल अन्य कामों में किया जाता है।
#beatplasticpollution आप भी दूर कर सकते हैं प्लास्टिक पॉल्यूशन,बस करना होगा ये आसान काम
दुनियाभर में प्रति व्यक्ति प्लास्टिक का खपत

2014 में जारी की गई संयुक्त राष्ट्र की एक रिपोर्ट के मुताबिक, अमरीका में प्रति व्यक्ति प्लास्टिक की खपत करीब 65 किलोग्राम है। बता दे कि भारत में पस्टिक की खपत प्रति व्यक्ति करीब 8 किलोग्राम है, जो बाकी देशों की तुलना में काफी कम है। 

#beatplasticpollution आप भी दूर कर सकते हैं प्लास्टिक पॉल्यूशन,बस करना होगा ये आसान काम
ऐसे दूर करें प्लास्टिक पॉल्यूशन
प्लास्टिक पॉल्यूशन को खत्म करने के लिए प्लास्टिक से बने पॉलीथीन का उपयोग ना के बराबर करें और अन्य लोगों को भी ये सलाह दें। बाजार में खरीदारी करते वक्त या हमेशा अपने साथ कपड़े से बना एक जूट या बैग जरूर रखें। अगर दुकानदार कोई सामान पॉलीथीन में दे तो उसे मना करें। अगर उपभोक्ताओं ने इसे इस्तेमाल करना बंद कर दिया तो इसकी आवश्यकता दिन-प्रति दिन कम हो जाएगी और एक समय ऐसा आएगा जब पर्यावरण से पॉलीथीन का सफाया हो जाएगा। प्लास्टिक की जगह क्या क्या चीजें अपनी रोजमर्रा की जिंदगी में इस्तेमाल कर सकते हैं, उसका वीडियो नीचे देख सकते हैं।


#beatplasticpollution आप भी दूर कर सकते हैं प्लास्टिक पॉल्यूशन,बस करना होगा ये आसान काम

International News inextlive from World News Desk