जानिए 2100 में कितनी होगी इंडिया की पॉपुलेशन
1. चीन :- 1950 में चीन की आबादी 544 मिलियन थी, जो 2013 में बढ़कर 1386 हुई और 2050 तक यह आंकड़ा 1620 मिलियन तक पहुंच जाएगा। लेकिन 22वीं सदी के आने पर यानी 2100 में यह नंबर गिरकर 1086 हो जाएगा।
जानिए 2100 में कितनी होगी इंडिया की पॉपुलेशन
2. भारत :- 1950 में भारत की जनसंख्‍या 376 मिलियन थी जो 2013 में 1252 हो गई। अगर यही रफ्तार बनी रही तो 2050 तक हम चीन को पीछे छोड़कर 1620 मिलियन आबादी के साथ नंबर वन पर होंगे। हालांकि 2100 में यह आंकड़ा घटकर 1547 मिलियन पर पहुंच जाएगा।
जानिए 2100 में कितनी होगी इंडिया की पॉपुलेशन
3. यूएसए :- 1950 में 158 मिलियन, 2013 में 320 मिलियन, 2050 में 401 और 2100 तक यह आबादी 462 मिलियन तक पहुंच जाएगी।
जानिए 2100 में कितनी होगी इंडिया की पॉपुलेशन
4. रूस :- 1950 में 103 मिलियन, 2013 में 143 मिलियन, 2050 में घटकर 121 मिलियन और 2100 तक यह फिर से 102 मिलियन रह जाएगी।
जानिए 2100 में कितनी होगी इंडिया की पॉपुलेशन
5. इंडोनेशिया :- 1950 में 73 मिलियन, 2013 में 250 मिलियन, 2050 में 321 मिलियन और 2100 तक यह घटकर 315 मिलियन हो जाएगी।
जानिए 2100 में कितनी होगी इंडिया की पॉपुलेशन
6. नाइजीरिया :- 1950 में 38 मिलियन, 2013 में 174 मिलियन, 2050 में 440 मिलियन और 2100 में यह बढ़कर 914 मिलियन हो जाएगी।
जानिए 2100 में कितनी होगी इंडिया की पॉपुलेशन
7. जापान :- 1950 में 82 मिलियन, 2013 में 127 मिलियन, 2050 में 108 मिलियन और 2100 तक यह घटकर 84 मिलियन रह जाएगी।
जानिए 2100 में कितनी होगी इंडिया की पॉपुलेशन
8. पाकिस्‍तान :- 1950 में 38 मिलियन, 2013 में 182 मिलियन, 2050 में 271 मिलियन और 2100 तक यह आंकड़ा घटकर 263 मिलियल रह जाएगा।
जानिए 2100 में कितनी होगी इंडिया की पॉपुलेशन
9. ब्राजील :- 1950 में 54 मिलियन, 2013 में 175 मिलियन, 2050 में 231 मिलियन और 2100 तक घटकर 195 मिलियन रह जाएगा।
जानिए 2100 में कितनी होगी इंडिया की पॉपुलेशन
10. जर्मनी :- 1950 में 70 मिलियन, 2013 में 83 मिलियन, 2050 में 73 मिलियन और 2100 तक यह घटकर 80 मिलियन से भी कम रह जाएगी।

Interesting News inextlive from Interesting News Desk

Interesting News inextlive from Interesting News Desk