-शिक्षक भर्ती की लिखित परीक्षा के मूल्यांकन को लेकर उठे थे कई सवाल

-राजकीय स्कूलों के शिक्षकों से कराया गया था पिछली बार मूल्यांकन

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: सूबे में पहली बार आयोजित शिक्षक भर्ती परीक्षा के मूल्यांकन में शुरू हुए विवाद के बाद फिर मूल्यांकन कराने के लिए अभ्यर्थियों से ऑनलाइन आवेदन मांगे गए हें. लेकिन मूल्यांकन को लेकर कार्यशैली पर सवाल उठाने के बाद पुनर्मूल्यांकन के लिए नए परीक्षक कहां से लाएंगे ये सबसे बड़ा प्रश्न बना हुआ है. जबकि पुनर्मूल्यांकन के लिए ऑनलाइन आवेदन करने वाले अभ्यर्थियों की संख्या लगातार बढ़ रही है.

तब भी प्रशिक्षुओं ने उठाए थे सवाल

राजकीय शिक्षकों के साथ ही साथ डायट में बीटीसी सेमेस्टर परीक्षाओं के मूल्यंाकन में भी प्रशिक्षुओं ने सवाल उठाए थे. बीते माह ही प्रशिक्षुओं ने मूल्यांकन प्रक्रिया पर ही सवाल उठाते हुए फिर से मूल्यांकन करा कर रिजल्ट जारी करने की मांग की थी. प्रशिक्षुओं का आरोप था कि मूल्यांकन में मानकों की अनदेखी की गई है और कापियों का सही तरीके से मूल्यांकन नहीं हुआ है.