jamshedpur@inext.co.in
JAMSHEDPUR: बालीगुमा स्थित गुलमोहर अपार्टमेंट, न्यू ग्रीन अपार्टमेंट फ्लैट नंबर जीएफ-2 में शुक्रवार को हुई शकुंतला देवी (80 वर्ष) की गला रेतकर हत्या मामले को जमशेदपुर पुलिस ने सुलझा लिया है. इसे अंजाम दिया था शकुंतला देवी के पोतों और उनके दोस्त ने. बिरसानगर निवासी ए हर्षित नायडू, ए निखिल नायडू ने अपने साथी गोविंदपुर निवासी संदीप उर्फ नीलकंठन नायर के सहयोग से चाकू से गला रेत कर हत्या कर दी थी. पोतों ने अपने दोस्त के साथ महज 30 हजार रुपए नहीं देने पर वारदात को अंजाम दिया. एसएसपी अनूप बिरथरे ने बताया कि ग्रामीण एसपी अनुरंजन किस्पोट्टा की देखरेख में एक टीम बनाई गई और पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए सीसीटीवी फुटेज खंगाला. मृतका की पुत्री सावित्री नायडू के बयान के आधार पर हत्यारों की पहचान हो चुकी थी.

एसएसपी ने पत्रकारों को बताया कि जिस ज्वेलर्स के पास गहनों को 73 हजार रुपए में बिक्री की गई थी, उसके मालिक ने दूसरे दिन अखबार में खबर छपने के बाद एसएसपी से मिलकर सीसीटीवी उपलब्ध करा दिया. पुलिस ने जमशेदपुर से उड़ीसा के मयूरभंज तक आरोपित को पकड़ने के लिए जाल बिछा दिया. एसएसपी ने बताया कि मयूरभंज पुलिस ने बारीपदा के पास आरोपित को किराए के इंडिगो कार के साथ पकड़ कर जमशेदपुर पुलिस को सौंप दिया. पुलिस ने गिरफ्तार आरोपित को कोर्ट में पेश किया जहां से उसे जेल भेज दिया गया.

ज्वेलर्स ने की मदद

एसएसपी ने बताया की दादी के हत्या को अंजाम देकर हत्यारे पोते उनके गहने को शरीर से निकाल लिया और दोस्त संदीप के साथ कार से निकल गए. खून से लगा कपड़ा साफ कराने के बाद गहना लेकर सीधे ज्वेलरी शॉप में गए. वहां ज्वेलर्स ने गहना पहचान लिया. इस पर दुकानदार ने पूछा तो आरोपित ने कहा कि दादी की तबीयत खराब है, इलाज कराना है. चूंकि गहना उसी का दुकान का था और मृतका के परिवार से बहुत ही पुराना संबंध था इसके कारण 73 हजार रुपए दे दिए. दूसरे ही दिन जब दुकानदार ने अखबार में हत्या की खबर पढ़ी, तो उसे समझते देर नहीं लगी. वह स्वयं एसएसपी ऑफिस पहुंचकर सीसीटीवी फुटेज उपलब्ध करा दिया.

शहर से भागने के लिए भाड़े पर ली कार

गहनों की बिक्री करने के बाद आरोपितों ने कपड़े खरीदे और फिर शराब पी. शहर छोड़ने के लिए 12 हजार रुपए किराए पर कार लिया. इसके बाद सभी पुलिस की पकड़ से छुपने के लिए पुरी निकल गए. पुलिस आरोपित के लोकेशन की जानकारी ले रही थी. एसएसपी अनूप बिरथरे ने मयूरभंज एसपी से बातचीत कर घटना की जानकारी दी. इसके बाद मयूरभंज पुलिस ने बारीपदा के पास आरोपित को पकड़ लिया.

फैक्ट फाइल

गिरफ्तार आरोपी

- ए हर्षित नायडू, बिरसानगर

- ए निखिल नायडू, बिरसानगर

- संदीप उर्फ नीलकंठन नायर, गोविंदपुर

बरामद सामान

- एक सोने का चेन

- दो पीस सोने का पोटा, 28.5 ग्राम

- पेन ड्राइव ज्वेलर्स का, जिसमें आरोपित का फुटेज है

- नकद, 23,700 रुपए

- सेमसंग कपनी के मोबाइल दो

-नए कपड़े नया कपड़ा, जो गहना बिक्री कर खरीदा

-काले रंग की कार