lucknow@inext.co.in
LUCKNOW : शाहजहांपुर के तिलहर में बेखौफ दबंगों ने छेड़खानी का विरोध करने पर युवती को जिंदा जला दिया। सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने कार्रवाई करने के बजाय मामले को दबाना शुरू कर दिया। हालांकि, पुलिस की कलई पीडि़ता ने मजिस्ट्रेट को दिये बयान से खोल दी। जिसमें उसने पूरी घटना बताई। वहीं, मंगलवार को पीडि़ता की इलाज के दौरान मौत हो गई। उधर, अब तक युवती द्वारा खुद केरोसीन छिड़ककर आग लगाने का दावा कर रही पुलिस अब कार्रवाई के पहले साक्ष्य संकलन की बात कर रही है।

घर लौटते समय दबंगों ने रोका
शाहजहांपुर के तिलहर की रहने वाली युवती बीती 23 नवंबर को अपने घर लौट रही थी। इसी दौरान उसे इलाके के दबंग सुनील बाबू गुप्ता ने अपने आधा दर्जन साथियों संग रोक लिया और उससे छेड़खानी करने लगे। बताया गया कि जब युवती ने इसका विरोध किया तो आरोपियों ने उसके संग मारपीट कर दी। युवती किसी तरह उनके चंगुल से बचकर भागते हुए अपने घर पहुंची तो दबंग भी उसके पीछे-पीछे हां आ पहुंचे और फिर से युवती को दबोच लिया।

घर में ही फूंक दिया
मजिस्ट्रेट को दिये बयान में युवती ने बताया कि दबंगों ने उसे घर के बरामदे में पकड़ लिया और उस पर केरोसीन छिड़ककर आग लगा दी। जिससे वह बुरी तरह झुलस गई। इसके बाद दबंग मौके से फरार हो गए। पीडि़ता की चीख-पुकार सुनकर पहुंचे परिजनों ने पुलिस को घटना की सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने पीडि़ता को गंभीर हालत में बरेली के निजी हॉस्पिटल में एडमिट कराया। जहां मंगलवार को इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।
 
साक्ष्य इकट्ठा करने का बहाना बना रही पुलिस

तिलहर पुलिस ने इतनी गंभीर घटना के  बाद आरोपियों पर कड़ी कार्रवाई करने के बजाय मामले को दबाने में अपना एड़ी चोटी का जोर लगा दिया। पुलिस ने घटना के अगले दिन आरोपियों के खिलाफ छेड़खानी, गालीगलौज, जान से मारने की धमकी जैसी मामूली धाराओं में केस दर्ज कर लिया और चुप बैठ गई। पुलिस ने इसके बाद दावा किया कि पीडि़ता ने खुद ही केरोसीन छिड़ककर आग लगा ली। लेकिन पीडि़ता द्वारा मजिस्ट्रेट के सामने दिये बयान में पुलिस के दावे की हवा निकाल दी। मंगलवार को पीडि़ता की मौत के बाद जब दैनिक जागरण आई नेक्स्ट ने एसपी शाहजहांपुर एस चनप्पा से जानकारी मांगी तो उन्होंने बताया कि आरोपियों के खिलाफ साक्ष्य संकलन किया जा रहा है। साक्ष्य संकलन के बाद ही कार्रवाई की जाएगी।

Crime News inextlive from Crime News Desk