BAREILLY। सौ गज जमीन के लिए सगे छोटे भाइयों ने बड़े भाई की ट्यूजडे रात ईट से सिर कूंच डाला. शोर सुनकर ग्रामीण जब तक मौके पर पहुंचे तब तक उसकी मौत हो चुकी थी. ग्रामीणों की सूचना पर पहुंची पुलिस ने दोनों हत्यारोपियों को मौके पर ही पकड़ लिया. पुलिस ने शव पोस्टमार्टम को भेज दिया.


ननिहाल में रहता है मृतक

फरीदपुर के गांव नौगवां निवासी धर्मेन्द्र 24 वर्ष तीन भाइयों में बड़ा था. शादी के बाद से धर्मेन्द्र अपनी ननिहाल कुआंडांडा के गांव खमियापुर बच्चों के साथ रहने लगा. आरोप है धर्मेन्द्र गांव में अपने हिस्से की 100 गज जमीन बेचने के लिए कहता था. जिस पर उसके दोनों छोटे भाई प्रवेश और सुरेश विरोध करते थे. धर्मेन्द्र ट्यूजडे शाम को गांव पहुंचा और जमीन बेचने की बात करने लगा. इसी बात पर तीनों भाइयों में कहासुनी हो गई. कुछ देर बाद धर्मेन्द्र, प्रवेश और सुरेश ने एक साथ बैठकर शराब पी. इसी दौरान धर्मेन्द्र जमीन बेचने के लिए जिद करने लगा. जिस पर प्रवेश और सुरेश ने मारपीट की, विरोध करने पर दोनों ने मिलकर धर्मेन्द्र के सिर को ईटों से कूच दिया. शोर सुनकर जब तक ग्रामीण मौके पर पहुंचे उसकी मौत हो चुकी थी. ग्रामीणों ने बताया कि धर्मेन्द्र के पिता छदम्मी को एक वर्ष पहले फरीदपुर में ट्रैक्टर ट्राली ने टक्कर मार दी थी, जिसमें उनकी मौत हो गई थी. पुलिस ने हत्यारोपियों पर एफआईआर दर्ज कर ली है.