चिलुआताल एरिया के खडि़या में हुई घटना

तीन के खिलाफ हत्या का मुकदमा, अरेस्ट

GORAKHPUR: चिलुआताल एरिया में दीपावली की रात पटाखा फोड़ने को लेकर हुए विवाद में मनबढ़ों ने किशोर की चाकू घोंपकर हत्या कर दी. बीच-बचाव करने पहुंचे किशोर के मां-बाप और चाचा को चाकुओं से घायल कर दिया. वह 11वीं कक्षा का छात्र था. घटना में नामजद बाप-बेटे सहित तीन लोगों को अरेस्ट कर पुलिस जांच में जुटी है. दो पक्षों में बवाल को देखते हुए मोहल्ले पुलिस मोहल्ले की निगरानी में जुटी है.

दिवाली की रात विवाद में घोंप दिया चाकू

खडि़या के मोहन और जगदीश के परिवार की महिलाओं के बीच करीब 10 दिन पहले झगड़ा हुआ था. इससे दोनों पक्षों के बीच रंजिश चल रही थी. दिवाली की रात पटाखा फोड़ने को लेकर जगदीश के परिवार के युवकों का मोहन के बेटे दिलीप से विवाद हो गया. कहासुनी होने पर पास पड़ोस के लोगों ने किसी तरह से मामला शांत करा दिया. रात में करीब 11 बजे दिलीप अपने दूसरे मकान पर सोने जा रहा था. तभी मनबढ़ों ने उसे दोबारा घेर लिया. आरोप है कि दिलीप पर जगदीश, उसके बेटे अखिलेश और भाई केशव ने घेरकर हमला कर दिया. दिलीप के शोर मचाने पर परिवार के लोग झगड़ा छुड़ाने पहुंचे.

मां और चाचा का चल रहा इलाज

दिलीप की मां गुड्डी, पिता मोहन और चाचा मिट्ठू को देखकर हमलावर भागने के बजाय भिड़ गए. उन पर भी चाकू चलाना शुरू कर दिया. मामला बढ़ते देखकर मोहल्ले के लोगों ने हस्तक्षेप किया. घायल दिलीप को आनन फानन में मेडिकल कॉलेज पहुंचाया गया. लेकिन उसकी जान नहीं बचाई जा सकी. गुड्डी और मिट्ठू का इलाज चल रहा है. दिलीप 11वीं कक्षा का स्टूडेंट था. उधर, बेटे की हत्या के मामले में गुड्डी ने तीन अखिलेश, केशव और जगदीश के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कराया. पुलिस ने तीनों को अरेस्ट कर ि1लया है.

वर्जन

हत्या की सूचना पर पुलिस पहुंची थी. तीन लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर उनको गिरफ्तार कर लिया गया है. दोनों पक्षों में विवाद की वजह से घटना हुई.

शलभ माथुर, एसएसपी