सिटी में नशे के लिए यूज होने वाली चीजें आसानी से अवेलेबल हैं. सब कुछ मिल रहा है यहां. चाहे वो चरस हो, ब्राउन सुगर, गांजा, भांग या फिर नशे के लिए यूज होने वाली मेडिसिन्स. सिटी के अनेक मेडिसिन शॉप्स में धड़ल्ले से बिना प्रिस्क्रिप्शन्स के नशे के लिए यूज करने वाली मेडिसिन्स बेची जा रही हैं. बच्चे हों या बड़े सभी धड़ल्ले से इनका यूज कर रहे हैं. कुछ दिनों पहले आई नेक्स्ट ने इस आशय से संबंधित खबर पब्लिश की थी.

पुलिस ने किया खुलासा
पुलिस को भी लगातार इस बात की सूचना मिल रही थी. इस संबंध में मिली सूचना के आधार पर पुलिस ने मानगो के सिंह मेडिकल हॉल में दबिश दी. इसके बाद इसका खुलासा हुआ कि बिना डॉक्टरी प्रिस्क्रिप्शन के कोई भी नशे के लिए यूज होने वाली मेडिसिन्स खरीद सकता है.

रंगे हाथों पकड़ा संचालक को
ट्यूजडे को एएसपी राजीव रंजन सिंह के निर्देश पर मानगो पुलिस ने अपने एक आदमी को मानगो चौक स्थित सिंह मेडिकल हॉल में भेजा. वहां से उक्त व्यक्ति ने बिना प्रिस्क्रिप्शन के फेनार्गन इंजेक्शन खरीदा. दो इंजेक्शन के लिए उसने 20 रुपए दिए. इसके बाद ज्यों ही उसे इंजेक्शन का एंपुल दिया जाने लगा पुलिस ने मेडिसिन शॉप ओनर को रंगे हाथों पकड़ लिया. 
पुलिस सिंह मेडिकल हॉल के संचालक विभूति भूषण देव को थाना ले गई. साथ ही फेनार्गन इंजेक्शन के दो एंपुल भी जब्त किए. पुलिस मामले में संचालक से पूछताछ कर रही है.

मंडे को मिला था ब्राउन सुगर
मंडे को गोलमुरी पुलिस ने हावड़ा ब्रिज के पास से ही एक युवक को दो पुडिय़ा ब्राउन सुगर के साथ अरेस्ट किया था. उसे लेकर पुलिस ने सिटी के विभिन्न एरिया में छापेमारी भी की थी. हालांकि इसमें पुलिस के हाथ ज्यादा कुछ नहीं लगा था.